कोलकाता की टीपू सुल्तान मस्जिद के शाही इमाम सैयद मोहम्मद नुरुर रहमान बरकती ने नोटबंदी को लेकर पीएम मोदी के खिलाफ फतवा जारी किया हैं. जिसमे उन्होंने पीएम के बाल व दाढ़ी का मुंडन करने वाले को 25 लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की हैं.

फतवा जारी कर बरकती ने कहा, ‘नोटबंदी के कारण हर रोज लोगों को प्रताड़ित होना पड़ रहा है और समस्याएं झेलनी पड़ रही हैं. मोदी नोटबंदी के नाम पर समाज और देश की भोली-भाली जनता को बेवकूफ बना रहे हैं. अब कोई उन्हें प्रधानमंत्री बनाना नहीं चाहता. उन्होंने यह बात ऑल इंडिया मजलिस-ए-सुरा और ऑल इंडिया मायनॉरिटी फोरम के संयुक्त सम्मेलन में कही.

बरकती ने आगे कहा कि पीएम ने नोटबंदी की घोषणा कर पाप किया है, यह फतवा उसी का दंड है. इस दौरान माइनोरिटी फोरम के चेयरमैन तृणमूल सांसद इद्रिश अली भी मौजूद थे. शाही इमाम को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का समर्थक माना जाता हैं. बरकती ने कुछ दिन पूर्व ममता पर टिप्पणी को लेकर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष के खिलाफ फतवा जारी कर उन्हें पत्थर मारकर राय से निकालने की बात कही थी.

इमाम के इस फतवे की निंदा करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय सचिव सिद्धार्थ नाथ सिंह ने दिल्ली में कहा, ‘हम ममता बनर्जी से मांग करते हैं कि इमाम को तत्काल गिरफ्तार किया जाए. हमारे प्रधानमंत्री के खिलाफ यह फतवा अत्यंत निंदनीय है. वह जब फतवा जारी कर रहे थे तो तृणमूल के सांसद इदरीस अली भी उनके साथ बैठे हुए थे.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें