पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने नोटबंदी और जीएसटी को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर हमला किया है. उन्होंने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी से जीडीपी पर प्रतिकूल असर पड़ा है.

नेटवर्क 18 के साथ बातचीत में उन्होंने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी दोनों का स्मॉल स्केल सेक्टर, असंगटित क्षेत्र पर असर पड़ा है. साथ ही 90 फीसदी रोजगार असंगठित क्षेत्र से मिलता है. मौजूदा सरकार को जीएसटी लागू करने में सतर्कता बरतनी चाहिए थी.

उन्होंने कहा, ‘ऐसे में जब 86 फीसदी नोट को प्रचलन से बाहर कर दिया जाए और ऊपर से जीएसटी लगा दिया जाए, जिसे जल्दीबाजी में लागू किया गया है. तो आने वाले दिनों में जीएसटी पर और ज्यादा प्रतिकूल प्रभाव की संभावना है.

चालू वित्त वर्ष की जून में खत्म हुई तिमाही के दौरान देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर में गिरावट दर्ज की गई और यह वित्त वर्ष 2016-17 की चौथी तिमाही के 6.1 फीसदी से घटकर 5.7 फीसदी पर आ गई.

गौरतलब रहें कि पूर्व प्रधानमंत्री ने पिछले साल हुई नोटबंदी को कानूनी लुट करार देते हुए भविष्यवाणी की थी कि नोटबंदी से देश की जीडीपी 1 से 2 फीसदी तक घट जाएगी, जो लगभग 2 लाख करोड़ रुपये है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?