Sunday, October 17, 2021

 

 

 

आरएसएस का फर्जी मुस्लिम प्रेम – नहीं दी मुख्यालय में इफ्तार की इजाजत

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई मे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की इफ्तार के आयोजन के बीच आरएसएस ने अपने ही संगठन की शाखा राष्‍ट्रीय मुस्लिम मंच को नागपुर स्थित मुख्‍यालय में इफ्तार का आयोजन करने की इजाजत देने से मना कर दिया है।

जनाकारी के अनुसार, राष्ट्रीय मुस्लिम मंच की महाराष्ट्र इकाई के संयोजक मोहम्मद फारूक शेख ने इफ्तार के आयोजन की अनुमति मांगी थी। इजाजत नहीं मिलने पर उन्होने सवाल उठाते हुए कहा कि इफ्तार के आयोजन में गलत क्या है?

उन्होने कहा, मैंने सोचा था कि आरएसएस द्वारा इफ्तार की मेजबानी करने से भाईचारे का संदेश जाएगा। वह भी ऐसे समय में जब पूरी दुनिया में भारत में बढ़ती असहिष्णुता पर चर्चा हो रही है। हमलोगों ने पिछले साल मोमिनपुरा जामा मस्जिद के सामने इफ्तार पार्टी का आयोजन किया था। इसमें आरएसएस और भाजपा के कुछ नेताओं ने भी शिरकत की थी।’

रिपोर्ट के मुताबिक फारुख शेख ने आरएसएस कार्यालय की इफ्तार पार्टी को शाकाहारी रखने का भी प्रस्ताव दिया था। लेकिन संघ की ओर से जवाब दिया गया कि स्‍मृति मंदिर में इफ्तार का आयोजन नहीं हो सकता है, क्‍योंकि इस समय वहां प्रशिक्षण कार्य चल रहा है।

राष्‍ट्रीय मुस्लिम मंच के संयोजक की ओर से इफ्तार को लेकर दिए गए बयान के बाद मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष मोहम्मद अफजल संघ का बचाव करते हुए कहा कि इस्लाम किसी से मुस्लिमों के लिए इफ्तार पार्टी आयोजित करने के लिए नहीं कहता है अगर कोई मुस्लिम इफ्तार पार्टी करना चाहता है तो वह किसी से कहता नहीं है, बल्कि खुद करता है।’

मोहम्मद अफजल के मुताबिक आरएसएस से इफ्तार पार्टी की मेजबानी की उम्मीद करना इस्लाम के बुनियादी उसूलों के खिलाफ है, फारुख शेख ने उत्साह में आकर यह मांग की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles