कोलकाता | पश्चिम बंगाल में इस बारे भी मोहर्रम के दिन दुर्गा मूर्ति का विसर्जन नही होगा. किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए सरकार ने यह आदेश जारी किया है. बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ट्वीट कर इस बारे में जानकारी दी. उन्होंने कहा की मोहर्रम के दिन को छोड़कर विसर्जन बाकी दिन किया जा सकता है. पिछले साल भी ममता सरकार ने इसी तरह का आदेश देकर मूर्ति विसर्जन पर रोक लगा दी थी.

बुधवार को ममता बनर्जी ने दुर्गा पूजा आयोजको के साथ एक बैठक की. इस बैठक में ममता ने सरकार के आदेश के बारे में आयोजको को बताया. साथ ही उनसे पूर्ण सहयोग की भी अपील की. इस बैठक में ममता ने कहा की विजयदशमी के दिन शाम 6 बजे तक ही मूर्ति विसर्जन किये जायेगें. इसके बाद मुहर्रम का जुलुस है इसलिए अगर ये दोनों चीजे साथ होगी तो समस्या खड़ी हो सकती है. किसी अप्रिय घटना होने का भी अंदेशा है.

बैठक में ममता ने आगे कहा की कुछ लोग इस मौके का फायदा उठाना चाहेंगे और अपने हितो के लिए हिन्दू मुस्लिम को एक औजार की तरह इस्तेमाल करेंगे. इस दौरान ममता ने सभी आयोजको से सहयोग देने की भी अपील की. बाद में उन्होंने ट्वीट कर बताया की मुहर्रम के दिन 24 घंटे को छोड़कर , विसर्जन 2,3 या 4 अक्टूबर को हो सकता है. ममता सरकार ने यह रोक केवल मुहर्रम के दिन ही लगाई है.

बताते चले की पिछले साल भी ममता सरकार ने कुछ इसी तरह का आदेश जारी किया था. बाद में इस मामले में हाई कोर्ट में काफी जनहित याचिकाए डाली गयी. इन याचिकाओ पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने ममता सरकार के आदेश को अल्पसंख्यक वर्ग को खुश करने के लिए उठाया गया कदम बताया. यही नही कोर्ट ने इस आदेश को मनमाना करार देते हुए कहा था की ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया जा सकता है जो ‘एक समुदाय को दूसरे के खिलाफ’ खड़ा करता हो.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?