पटना | बिहार की राजधानी पटना में आज गुरु गोविन्द सिंह की 350वी जयंती के मौके पर प्रकाश उत्सव समागम आयोजित किया गया. इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी भी मौजूद रहे. कार्यक्रम के दौरान मोदी ने एक रैली को भी संबोधित किया. उस समय उनके साथ मुख्यमंत्री नितीश कुमार भी मंच पर मौजूद रहे. पीएम मोदी के भाषण खत्म होते ही रैली स्थल पर बड़ी घटना होने से बच गयी.

दरअसल मोदी और नितीश को सुनने लाखो लोग रैली में आये हुए थे. पहले नितीश कुमार का भाषण हुआ और उसके बाद प्रधामंत्री मोदी का. जैसे ही मोदी ने अपना भाषण खत्म किया वहां भीड़ बेकाबू हो गयी और लोगो के बीच भगदड़ मच गयी. हालांकि इस भगदड़ में कोई हताहात नही हुआ. इस पूरी घटना में पुलिस ने अहम भूमिका निभाई और उनकी चौकसी की वजह से एक बड़ी घटना होने से बच गयी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दूसरी और आज पटना के गाँधी मैदान में एक अनोखा नजारा देखने को मिला. प्रकाश पर्व के मौके पर आयोजित रैली में मोदी और नितीश कुमार ने मंच साझा किया. रैली को संबोधित करते हुए नितीश कुमार ने मोदी की जमकर तारीफ करते हुए कहा की मोदी 12 साल तक गुजरात के मुख्यमंत्री रहे, वहां उन्होंने शराब बंद करके अच्छा काम किया.

नितीश कुमार से तारीफ के शब्द सुन मोदी ने भी हिसाब बराबर कर दिया. मोदी कार्यक्रम के आयोजन को लेकर काफी प्रभावित दिखे. उन्होंने कहा की नितीश जी ने अपनी देखरेख में पुरे कार्यक्रम की तैयारिया करवाई. इसके अलावा उन्होंने शराबबंदी करके साहसिक काम किया. यह अकेले नितीश जी का नही हम सब का काम है. अगर सब साथ दे तो बिहार देश को आगे बढाने में अपना योगदान देगा.

देखे भगदड़ की विडियो ( सौजन्य से : न्यूज़ ऑफ़ बिहार )

Loading...