मुंबई । केंद्रीय पोत परिवहन मंत्री नितिन गड़कती ने  नौसेना को लेकर हैरान कर देने वाली टिप्पणी की है। उन्होंने नौसेना अधिकारियों पर मुंबई के आलीशान इलाक़ों में रहने की लालसा पर सवाल उठाए। उन्होंने नौसेना अधिकारियों को खरी खरी सुनाते हुए कहा की आख़िर सभी नौसेना अधिकारियों को दक्षिणी मुंबई के आलीशान इलाक़े में ही क्यों रहना है?

गड़करी ने बेहद तल्ख़ लहजे में कहा की मैं नौसेना को इन इलाक़ों में फ़्लैट या क्वॉर्टर बनाने के लिए एक इंच भी ज़मीन नही दूँगा। दरअसल नितिन गड़करी, नौसेना के केंद्र की कुछ परियोजनाओं को हरी झंडी न देने की वजह से नाराज़ थे। एक सार्वजनिक कार्यक्रम में पश्चिमी नौसैनिक कमान के प्रमुख वाइस एडमिरल गिरीश लूथरा की मौजूदगी में गड़करी ने ये बातें कही।

उन्होंने कहा,’ दरअसल नौसेना की जरूरत सीमाओं पर है जहां से आतंकवादी घुसपैठ करते हैं। हर कोई (नौसेना में) दक्षिण मुंबई में क्यों रहना चाहता है? वे मेरे पास आए थे और भूखंड मांग रहे थे। मैं एक इंच भी जमीन नहीं दूंगा। कृपया दोबारा मेरे पास नहीं आइए। सभी दक्षिण मुंबई की अहम जमीन पर क्वार्टर और फ्लैट बनवाना चाहते हैं। हम आपका (नौसेना का) सम्मान करते हैं, लेकिन आपको पाकिस्तान सीमा पर जाना चाहिए और गश्त करनी चाहिए।’

दरअसल केंद्र सरकार दक्षिण मुंबई के मालाबार हिल में एक तैरते पुल, तैरता होटेल और सीप्लेन जैसी परियोजना शुरू करना चाहती थी। लेकिन नौसेना ने केंद्र सरकार की इस परियोजना को हरी झंडी नही दी। इस पर गड़करी ने कहा,’ मैंने सुना कि आपने (नौसेना ने) मालाबार हिल पर तैरते पुल (फ्लोटिंग जेटी) के निर्माण की योजना पर रोक लगा दी। जबकि उच्च न्यायालय से इसे मंजूरी मिल गयी है।मालाबार हिल में नौसेना कहां है? मालाबार हिल में कहीं नौसेना नहीं है और नौसेना को इस इलाके से कोई लेनादेना नहीं है।’

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें