वहाबी स्कॉलर जाकिर नाईक के खिलाफ राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) एक बार फिर से इंटरपोल की मदद लेने जा रही है. NIA मंगलवार को इंटरपोल से नाइक के खिलाफ ताजा रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने की मांग करेगी.

ध्यान रहे इंटरपोल ने सबूतों के अभाव में पहले ही जाकिर नाईक के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने से इन्कार कर दिया. साथ ही दुनियाभर में फैले अपने ऑफिसर्स को जाकिर से डाटा डिलीट भी करने का निर्देश दिया.

इंटरपोल ने NIA की ओर से दिए गए सबूतों को नाकाफी बताते हुए जाकिर के वकील को 11 दिसंबर 2107 को एक पत्र भेजा जिसमे कहा गया भारतीय एजेंसियों की तरफ से उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने के आग्रहों को पर्याप्त सबूतों के अभाव में खारिज कर दिया गया है.

इस सबंध में NIA का कहना है कि पहले चार्जशीट दाखिल न करने की वजह से ऐसा हुआ था. हालांकि अब NIA मजबूत चार्जशीट के साथ रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने का नया आवेदन देगी. जिसे अक्टूबर में दाखिल किया जा चूका है.

डॉक्टर जाकिर नाईक के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम अधिनियम (UAPA) और भारतीय दंड विधान की धारा 20 (b), 153 (a), 295 (a), 298 and 505 (2) के तहत आरोप लगे हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?