niaa

1993 में पाकिस्तान से लाए गए हथियार समुद्र किनारे छुपाए जाने की जानकारी सामने आने के बाद एनआईएने गुजरात के पोरबंदर में खुदाई का काम शुरू कर दिया है। बताया जा रहा है अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के साथियों ने 1993 में इन हथियारों यहाँ छुपा दिया था।

एनआईए को शक है कि 1993 में पाकिस्तान से आए आरडीएक्स के साथ जो हथियार भेजे गए थे, वो यहां पर जमीन में दबाकर रखे गए हैं। 1993 में पोरबंदर के घोसाबारा में आरडीएक्स उतरा गया था। एनआईए फिलहाल मशीनों से इस इलाके की खुदाई कर रही है। एनआईए की टीम ने पूरे इलाके की घेराबन्दी कर दी है।

गुजरात पुलिस के एक अधिकारी के अनुसार राष्ट्रीय जांच एजेंसी को 1993 में पाकिस्तान के रास्ते भारत आई दो नावों के बारे में पता चला था, जिनमें कराची से बड़ी मात्रा में हथियार और आरडीएक्स भेजे गए थे। इन नावों में से अल सहाबहार नाम की एक नाव को गोसाबारा तट पर भेजा गया था, वहीं दूसरी नाव महाराष्ट्र पहुंची थी। इन नावों में जो हथियार पाकिस्तान से लाए गए थे, उनका इस्तेमाल 1993 के बम ब्लास्ट में किया गया था।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गुजरात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हमें टीम के तीन दिनों पहले अहमदाबाद पहुंचने की जानकारी मिली थी, जिसके बाद राज्य के अधिकारियों ने खुदाई के लिए सारे इंतजाम सुनिश्चित किए और फिर गोसाबारा के तटीय क्षेत्र में दफन किए गए हथियारों की तलाश शुरू की गई।

बता दें कि 1993 में गुजरात पुलिस ने गोसाबारा के तटीय क्षेत्र में पाकिस्तान से भेजी गई पहली खेप के हथियारों को जब्त किया था।

Loading...