केंद्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने आज दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग (Delhi minority commission) के पूर्व प्रमुख जफरुल इस्लाम खान (Zafarul Islam Khan) के आवास पर छापेमारी की कार्रवाई की।

जानकारी के अनुसार, गुरुवार की सुबह दिल्ली में अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व प्रमुख जफरुल इस्लाम खान के आवास पर एनआईए की टीम ने छापा मारा है। उनके उन ठिकानों की तलाशी भी ली गई, जिसका उनके एनजीओ और ट्रस्ट से वास्ता है। कुल मिलाकर एनआईए की दिल्ली और देश के अन्य हिस्सों में 9 ठिकानों पर छापेमारी की गई है।

बता दें कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गुरुवार (30 अप्रैल) को दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व अध्यक्ष जफरुल इस्लाम खान के खिलाफ देशद्रोह के तहत मामला दर्ज किया था, उन पर 28 अप्रैल को अपने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिये कथित तौर पर भड़काऊ बयान देने का आरोप है।

उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 124 ए (देशद्रोह) और 153 ए (धर्म, जाति, जन्म स्थान, भाषा आदि के आधार पर दो समूहों में वैमनस्यता को बढ़ावा देना और समानता व सौहार्द को नुकसान पहुंचाने की धारणा से काम करने ) के आरोप में दर्ज है।

28 अप्रैल, 2020 को उन्होने एक ट्वीट किया था। जिसमे उन्होने लिखा था, अगर भारतीय मुसलमानों ने भारत में धर्म के नाम पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ अरब और मुस्लिम देशों से शिकायत कर दी तो कट्टर लोगों को जलजले का सामना करना होगा। हालांकि जफरुल इस्लाम खान ने  अपने बयान को लेकर माफी मांग ली थी।

उन्होने सफाई दी थी कि  मेरा इरादा गलत नहीं था। 28 अप्रैल, 2020 को मेरे  ट्वीट में उत्तर-पूर्वी जिले की हिंसा के संदर्भ में कुवैत को भारतीय मुसलमानों के उत्पीड़न पर ध्यान देने के लिए धन्यवाद दिया गया, कुछ लोगों को इससे पीड़ा हुई, जो कभी भी मेरा उद्देश्य नहीं था।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano