Monday, September 20, 2021

 

 

 

प्रज्ञा सिंह ठाकुर के चुनाव लड़ने पर NIA कोर्ट का रोक लगाने से इंकार

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई: मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के चुनाव लड़ने पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका को आज मुंबई  की एनआईए अदालत ने खारिज कर दिया। दरअसल, मालेगांव बम ब्लास्ट के एक पीड़ित के पिता ने साध्वी के चुनाव लड़ने पर सवाल उठाए हैं।

बुधवार (24 अप्रैल, 2019) को कोर्ट ने कहा कि साध्वी के चुनाव लड़ने पर रोक नहीं लगाई जा सकती है। एनआईए कोर्ट ने इस याचिका को यह कहते हुए खारिज कर दिया कि इस मसले पर फैसला चुनाव अधिकारी लेंगे।

कोर्ट के हवाले से एएनआई ने कहा, “जारी चुनावी प्रक्रिया के बीच कोर्ट के पास किसी व्यक्ति के चुनाव लड़ने पर रोक लगाने को लेकर कोई कानूनी अधिकार नहीं है। यह चुनाव अधिकारियों का काम है कि वे इस पर फैसला लें। कोर्ट किसी को चुनाव लड़ने से नहीं रोक सकता है।”

bjp

बता दें कि पीड़ित के परिजन ने एनआईए कोर्ट में कहा है कि साध्वी ने अपने खराब स्वास्थ्य का हवाला देकर जमानत ली थी, ऐसे में जब उनका स्वास्थ्य खराब है तो वह चुनाव कैसे लड़ सकती हैं। निसार अहमद सैयद बिलाल के बेटे सैयद अजहर की मौत 2008 के मालेगांव धमाकों के दौरान हुई थी।

याचिकाकर्ता ने उसमें मांग की थी कि जब तक ट्रायल प्रक्रिया पूरी नहीं हो जाती, तब तक प्रज्ञा के चुनाव लड़ने पर रोक लगी रहनी चाहिए। याचिकाकर्ता के वकील ने कोर्ट के समक्ष कहा, “वह तबीयत गड़बड़ होने का हवाला देकर कोर्ट की कार्यवाही में शामिल नहीं होती हैं, पर चुनावी प्रचार के दौरान उनका स्वास्थ्य कहीं से भी खराब नहीं नजर आता।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles