kerala love jihad

kerala love jihad

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने हादिया केस में बड़ा दावा करते हुए कहा कि शादी से पूर्व उसका पति शफीन जहाँ सोशल मीडिया के जरिए आतंकी संगठन आईएसआईएस के सम्पर्क में था.

NIA का दावा है कि एक लोकप्रिय सेजिंग ऐप के जरिए आईएसआईएस से जुड़े हुए थे. साथ ही पॉप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) की पॉलिटिकल विंग एसडीपीआई के कुछ सदस्य भी शामिल थे. जिनमे पिछले साल अक्टूबर में NIA द्वारा गिरफ्तार मनसीद और साफवान भी शामिल थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मनसीद और साफवान को उमर अल-हिंदी मामले में एनआईए ने गिरफ्तार किया था. एनआईए का दावा है कि इन दोनों ने हादिया का संपर्क शफीन से कराया था. हालांकि एनआईए का ये दावा पिछले दावे से उलट है जिसमे कहा गया था कि हादिया और शफीन की मुलाकात मैट्रिमोनियल साइट waytonikah.com के जरिए हुई थी.

अब एनआईए का कहना है कि मनसीद पीएफआई के जरिए सैनबा के संपर्क में था. सैनबा को ही कोर्ट ने हादिया की शादी के वक्त उसका गार्डियन नियुक्त किया था. एनआईए का दावा है शफीन कॉलेज के दिनों से ही एसडीपीआई की स्टूडेंट विंग के डिस्ट्रिक्ट कमिटी के मेंबर और ऐक्टिव वर्कर था.

यह सभी लोग सोशल मीडिया ऐप और एक क्लोज़्ड फेसबुक ग्रुप ‘थानल’ के जरिए एक-दूसरे के संपर्क में थे. मनसीद और शफीन केवल फेसबुक ग्रुप ‘एसडीपीआई केरलम’ के मेंबर ही नहीं बल्कि उसके ऐडमिनिस्ट्रेटिव पैनल का भी हिस्सा थे.

Loading...