एनआईए के डीजी जनरल शरद कुमार ने एक निजी चैनल पर इंटरव्यू इंटरव्यू में दावा किया था कि पठानकोट हमले में पाकिस्तान के हाथ होने के सुबूत सामने नहीं आए हैं. लेकिन विदेश मंत्रालय ने कहा है कि पाकिस्तान इन धमाकों के पीछे है।

कुमार के इंटरव्यू के बाद शुक्रवार को मीडिया में जारी बयान में एनआईए ने कहा कि पठानकोट जांच और समझौता केस की जांच को लेकर चैनल पर एनआईए के डीजी के बयान को गलत तरीके से पेश किया जा रहा है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

डीजी कुमार ने बयान पर सफाई देते हुए कहा है कि इंटरव्यू में कही गई उनकी बात को गलत अर्थ में पेश किया गया। कुमार के मुताबिक उन्होंने इंटरव्यू में कहा था कि एनआईए जल्द ही पठानकोट मामले में जैश के आतंकी सरगना मसूद अजहर और उसके छोटे भाई राउफ अजहर के ऊपर आरोप तय करेगा।

उधर, विपक्षी दलों ने पाकिस्तान को क्लीन चिट देने पर नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि पाक को क्लीन चिट देने से राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की आतंक के खिलाफ लड़ाई कमजोर होगी।