एनआईए द्वारा आईएसआईएस के कथित लिंक के नाम पर हेदराबाद में की गई गिरफ्तारी पर गिरफ्तार नोजवानों के परिजनों ने अपने बच्चों को निर्दोष बताया हैं. उन्होंने कहा कि इन गिरफ्तारियों से मुस्लिम आबादी वालें मोहल्लों में दहशत फैली हुई हैं.

गिरफ्तार युवको के परिजनों ने भारतीय न्याय व्यवस्था पर भरोसा जताते हुए कहा कि उन्हें पूरा यकीन हैं कि वो निर्दोष साबित होंगे. इस मामले में युवको के परिजन मानवाधिकार आयोग से संपर्क करेंगे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एनआईए द्वारा मोहमम्द इब्राहीम यजदानी और मोहम्मद इल्यास यजदानी नामक दो भाइयों को गिरफ्तार किया गया हैं. इन दोनों भाइयों के बड़े भाई इशाक यजदानी ने बताया कि NIA अफसरों ने उनके घर पर छापा मारा और वो लोग घर में सामानों की तलाशी लेनी शुरू की ,जाँच एजेंसी के अफसरों ने बताया कि वो लोग इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से है.

इब्राहीम यजदानी इंजिनियर है और उन्होंने सऊदी अरब में तीन साल नौकरी की है वो पिछले साल ही हैदराबाद वापस आया है. उन्होंने कहा कि उनके भाइयों को गिरफ्तार करते समय पुलिस ने वज़ह नही बताई थी और जब उनको मीडिया द्वारा अपने भाइयों पर लगे गंभीर आरोप की जानकारी हुई तो वे हैरान रह गये.

इसी तरह एक और नौज़वान अली अजहरी को गिरफ्तार किया गया है उनके मामा फहीम खान और दुसरे रिश्तेदारों ने बताया है कि अली अजहरी काल सेंटर में जाब कर रहे थे रमजान के महीने की वजह से अली अजहरी ने छुट्टी ले रखी थी.

मुज़फ्फर हुसैन रिजवी को अमन नगर से गिरफ्तार किया गया है उनके बड़े भाई मुदससिर हुसैन का कहना है कि उनके भाई ने सिर्फ हाईस्कुल किया है अपने भाई पर लगे आरोपों को उन्होंने झूठ बताया और कहा ये सब मुसलमानों को बदनाम करने की साजिश हैं. (सिआसत हिन्दी)

Loading...