modi

modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात के जरिए देश को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने पैगम्बर हज़रत मोहम्मद (सल्ल.) साहब के जन्मदिवस यानि ईद मिलादुन्नबी की बधाई दी.

उन्होंने कहा, कुछ दिन बाद ‘ईद-ए-मिलाद-उन-नबी’ का पर्व मनाया जाएगा. इस दिन पैगम्बर हज़रत मोहम्मद (सल्ल.) साहब का जन्म हुआ था. मैं सभी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएँ देता हूं. पीएम मोदी  ने आगे कहा, “मुझे उम्मीद है कि ईद के इस पवित्र मौके से हमें शांति व सामुदायिक सद्भाव को बढ़ावा देने के लिए नई प्रेरणा, नई ऊर्जा व नए सिरे से ताकत मिले.”

इसी के साथ 26/11 हमले को याद करते हुए उन्होंने कहा,  देश कैसे भूल सकता हैं कि 9 साल पहले 26/11 को, आतंकवादियों ने मुंबई पर हमला बोल दिया था. देश उन बहादुर नागरिकों, पुलिसकर्मियों, सुरक्षाकर्मी, उन हर किसी का स्मरण करता है, उनको नमन करता है जिन्होंने अपनी जान गंवाई, यह देश कभी उनके बलिदान को नहीं भूल सकता.

पीएम मोदी ने कहा कि आज आतंकवाद ने भयंकर रूप अख्तियार कर लिया है. आतंकवाद ने मानवता को चुनौती दी है और भारत 40 साल से इसके खिलाफ लड़ रहा है. उन्होंने अपील की कि दुनिया मिलकर आतंकवाद का खात्मा करे.

पीएम ने कहा कि आज के दिन हम सभी को संविधान बनाने वाले लोगों को याद करना चाहिए जिनके कारण समाज के गरीब तबके के लोगों को सरंक्षण प्रदान किया गया। पीएम मोदी ने कहा कि संविधान बनाने वाले लोगों पर सभी भारतीय को गर्व करना चाहिए. पीएम ने बताया कि संविधान बनाने में सबसे ज्यादा बाबा साहब अंबेडकर का योगदान है.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें