kafeel khan 625x300 1529228803305

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर शहर के बीआरडी मेडिकल कालेज के डॉ. कफील खान ने रविवार को अपने छोटे भाई पर हुए जानलेवा हमले के लिए बीजेपी सांसद कमलेश पासवान और कारोबारी सतीश नंगलिया पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

डॉ. कफील ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फेंस कर कहा, “मेरे चाचा की जमीन पर पासवान और सतीश ने फरवरी में कब्जा कर लिया था। उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी। लेकिन, सांसद की मांग पर हाईकोर्ट ने गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी। इस केस पर 13 जून को फैसला आना था। 10 जून को ही सांसद ने मेरे भाई पर इमाम हुसैन और निकहत आरा के साथ साजिश कर हमला करवा दिया। डॉक्टर जब काशिफ के गले में फंसी गोली निकालने की तैयारी कर रहे थे, तभी सीओ प्रवीण सिंह और एसपी सिटी विनय कुमार वहां पहुंचे। उन्होंने जानबूझकर कार्रवाई के नाम पर चार घंटे तक इलाज में देरी कराई। भाजपा सांसद, सतीश और इन पुलिस अफसरों पर तुरंत कार्रवाई होनी चाहिए। घटना के 7 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है।”

उन्होने कहा कि इन लोगों ने गिरफ्तारी से बचने के लिये हाईकोर्ट से स्टे लेने की कोशिश भी की है।’  डॉक्टर कफील ने मांग की है कि इस मामले की जांच अब सीबीआई करे या फिर हाईकोर्ट के जज के निगरानी में हो। उन्होंने कहा, ‘अब मैं यूपी पुलिस से जांच नहीं करवाना चाहता हूं’।

कफील ने कहा, “मेरे और मेरे परिवार की जान पर खतरा बना हुआ है। मैं उत्तर प्रदेश सरकार से परिवार की सुरक्षा की मांग करता हूं। हम सीबीआई जांच या किसी हाईकोर्ट के जज से जांच की मांग करते हैं। इसके लिए हमें मुख्यमंत्री से मिलना पड़ा तो मिलेंगे। हमें पुलिस की जांच पर भरोसा नहीं है।”

बता दें कि डॉक्टर कफील खान के भाई को बीते 10 जून को मोटरसाइकिल सवार कुछ बदमाशों ने गोली मारकर गंभीर रुप से घायल कर दिया था। रात करीब 11 बजे कुछ मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने हुमायूंपुर उत्तरी क्षेत्र में जेपी हॉस्पिटल के पास काशिफ (34) पर गोलियां चलायीं थी जो उनकी बांह, गर्दन और ठुड्डी पर लगीं। उनकी हालत स्थिर है।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?