Thursday, October 21, 2021

 

 

 

क्या भाजपा के दबाव में न्यूज़ चैनल ने एग्ज़िट पोल में दिखायी कांग्रेस की हार?

- Advertisement -
- Advertisement -

modi shah story 647 121417074005

नई दिल्ली । गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए मतदान सम्पन्न हो चुका है। अब सभी उम्मीदवारों को 18 तारीख़ का इंतज़ार है। इस दिन स्पष्ट होगा की गुजरात का असल सरदार कौन है। हालाँकि कांग्रेस और भाजपा , अपनी अपनी जीत के दावे कर रहे है। लेकिन गुरुवार को सामने आए एग्ज़िट पोल में भाजपा की सरकार बनती दिख रही है। सभी एग्ज़िट पोल में भाजपा को 100 से ज़्यादा सीटें मिलते दिख रही है।

हालाँकि विपक्ष ने इन आँकड़ो को मानने से इंकार कर दिया। उनका कहना है की 18 तारीख़ को नतीजे बिलकुल इसके उलट होंगे। पाटिदार नेता हार्दिक पटेल ने तो एग्ज़िट पोल के नतीजों को ईवीएम से ही जोड़ दिया। उन्होंने ट्वीट कर कहा की भाजपा अभी से माहौल बना रही है जिससे कि नतीजे आने के बाद ईवीएम पर संदेह न किया जा सके। हार्दिक ने इसे भाजपा की पुरानी चाल क़रार दिया।

हालाँकि विपक्ष इन आँकड़ो को कभी स्वीकार नही करेगा। लेकिन क्या उनके आरोपो में दम है की न्यूज़ चैनल भाजपा के दबाव में है, इसलिए उन्होंने एग्ज़िट पोल उनकी प्रचंड जीत दिखायी और कांग्रेस की बुरी हार। अगर पीछले कुछ चुनावों की बात करे तो कई ऐसे चुनाव है जहाँ एग्ज़िट पोल में भाजपा को बहुमत दिखाया गया लेकिन अंतिम परिणाम उससे उलट आए। इनमे पंजाब, बिहार और दिल्ली के नतीजे शामिल है।

एक और चौकाने वाली बात यह है की पीछले तीन सालों में जितने भी एग्ज़िट पोल सामने आए है उन्मे ज़्यादातर में भाजपा की सरकार बनते हुए दिखाई गयी है। अगर गुजरात के एग्ज़िट पोल की बात करते तो विपक्ष ही नही बल्कि कई पत्रकार भी इनसे हैरान नज़र आए। वरिष्ठ पत्रकार विनोद शर्मा और सुकेश रंजन ने न्यूज़ 24 में डिबेट के दौरान यह बात मानी की गुजरात की जनता में भाजपा के प्रति काफ़ी ग़ुस्सा था।

विनोद शर्मा के अनुसार एग्ज़िट पोल के आँकड़े हैरान करने वाले है क्योंकि मैं गुजरात में घुमा हूँ। इस दौरान मेरी कई पत्रकारों से भी बात हुई जो पीछले दो महीने से वहाँ थे। उन्होंने यह माना की टीवी पर ऑन कैमरा चाहे भाजपा की सरकार बनने की बात कही जा रही हो लेकिन ज़मीनी हक़ीक़त यह है की प्रदेश में कांग्रेस काफ़ी अच्छी हालत में है। लोगों में ग़ुस्सा है। सुकेश रंजन ने भी विनोद शर्मा की बात का समर्थन किया। इसलिए अगर 18 तारीख़ को नतीजे एग्ज़िट पोल के उलट आए तो सभी न्यूज़ चैनल पर सवाल उठना लाज़िमी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles