hazare20150227 600 855 630 630

hazare20150227 600 855 630 630

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे इन दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ मौर्चा खोले हुए है. उन्होंने पीएम मोदी के शासन को भ्रष्ट करार देते हुए कहा कि पिछले तीन साल के एनडीए शासन में भारत एशिया में भ्रष्ट देशों की सूची में सबसे उपर आ गया है.

उन्होंने मोदी सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि इन दिनों बीजेपी मालामाल हो गई है. पिछले पांच साल में बीजेपी को दान के रूप में 80 हजार करोड़ रुपए की रकम मिली है. उन्होंने कहा, “मैं यह दावा नहीं कर रहा हूं, लेकिन एशियाई देशों में सर्वेक्षण करवाने के बाद यह फोर्ब्स पत्रिका में प्रकाशित हुआ है.”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अन्ना ने कहा,  “पिछले तीन साल से मैं चुप हूं. जब नई सरकार आती है तो हमें उसे अवश्य कुछ समय देना चाहिए. इसलिए मैं चुप रहा लेकिन अब बोलने का वक्त आ गया है. मजबूत जन लोकपाल और देश के किसानों के लिए अगले साल 23 मार्च से दूसरा आंदोलन शुरू करने जा रहा हूं.”

उन्होंने कहा, “किसानों को उनकी फसलों का मूल्य नहीं मिल रहा है और वे कर्ज अदा करने में खुद को असमर्थ पा रहे हैं. यही कारण है कि किसान आत्महत्या कर रहे हैं.” हजारे ने कहा कि वह पिछले तीन साल में प्रधानमंत्री को 32 पत्र लिख चुके हैं लेकिन प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) से एक भी पत्र का उन्हें जवाब नहीं मिला है.

ध्यान रहे अन्ना हजारे ने यूपीए शासन के दौरान भ्रष्टचार को बड़ा मुद्दा बनाते हुए लोकपाल के लिए आंदोलन किया था. जिसके चलते कांग्रेस को बीते लोकसभा चुनाव में हार का मुंह देखना पड़ा था.