देश की सर्व्वोच अदालत को को धमकी देते हुए विश्व हिंदू परिषद के अन्तर्राष्ट्रीय संगठन मंत्री दिनेश चंद्र ने कहा कि अगर सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर के खिलाफ फैसला किया तो इस फैसले को स्वीकार नहीं किया जाएगा.

अयोध्या में बुधवार को महंत नृत्य गोपाल दास के आवास पर मीडिया को संबोधित करते हुए उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से इस केस की डे-टू-डे सुनवाई करने की मांग की. ताकि फैसला जल्द से जल्द आ सके.

दिनेश चंद्र ने कहा कि अगर कोर्ट का फैसला राम मंदिर के पक्ष में नहीं होता तो ऐसे में हिंदू समाज एक बार फिर रामलला के भव्य मंदिर निर्माण के लिए लड़ाई शुरू करेगा.

उन्होंने कहा कि किसी भी अवस्था में अयोध्या के अंदर बाबरी मस्जिद का निर्माण स्वीकार नहीं किया जाएगा. साथ ही हिंदू समाज मंदिर के साथ मस्जिद को स्वीकार नहीं करेगा. हालांकि उन्होंने उम्मीद जताई कि फैसला राम मंदिर के पक्ष में ही आएगा.

साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि अगर फैसला मंदिर के खिलाफ आया तो जिस तरह 1582 से हिंदू समाज लड़ता आया है, उसी तरह लड़ेगा. बता दें कि मुस्लिम समुदाय ने सुप्रीम कोर्ट के हर फैसले को मानने की बात कही है.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें