225794 kovind185

श्री माता वैष्णो देवी विश्वविद्यालय के दीक्षात समारोह में आज मुख्य अतिथि रूप मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जम्मू-कश्मीर के कठुआ में 8 साल की बच्ची के साथ मंदिर में हुई दरिंदगी के मामले को शर्मनाक बताया है.

उन्होंने कहा कि ‘बच्ची के साथ जो कुछ भी हुआ, उसकी कल्पना भी नहीं कर सकते हैं.’ कोविंद ने कहा, ‘एक बच्ची के साथ जो कुछ भी प्रदेश में हुआ बेहद गलत था, उसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है.’ उन्होंने कहा कि ‘आजादी के 70 साल बाद भी अगर देश के किसी हिस्से में इस तरह की घटना होती है तो यह बेहद शर्मनाक है.’ उन्होंने कहा, ‘हम कहां जा रहे हैं, कैसा समाज बना रहे हैं.

राष्ट्रपति ने कहा कि मैं समझता हूं कि दुनियां में सबसे खूबसूरत चीज है, मासूम बच्चों की मुस्कान और समाज की सबसे बड़ी सफलता है, हमारे बच्चों का सुरक्षित होना. हर बच्चे को सुरक्षा देना और उसे सुरक्षित महसूस कराना किसी भी समाज की पहली ज़िम्मेदारी होती है.

देश में महिलाओं की भूमिका पर राष्ट्रपति ने कहा कि क्या हम ऐसे समाज का निर्माण कर रहे हैं जहां हमारी मां-बहनें और बेटियां संविधान में निहित न्याय, समानता, स्वतन्त्रता और बंधुता को सही अर्थों में अनुभव कर सकें?

रामनाथ कोविंद ने कहा कि हम सभी की ये ज़िम्मेदारी है कि देश के किसी भी भाग में, किसी भी बेटी या बहन के साथ ऐसा न हो. मुझे विश्वास है कि हम में से प्रत्येक व्यक्ति इन बेटियों के प्रति अपनी इस सामाजिक ज़िम्मेदारी को जरूर निभाएगा.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?