ali 696x371

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात के 42 वें संस्करण में असम के 80 वर्षीय रिक्शा चालक अहमद अली की प्रशंसा की. मूल रूप से असम के करीमगंज जिले के रहने वाले अहमद अली ने रिक्शा चलाकर 9 स्कूलों का निर्माण कराया है.

मोदी ने कहा कि जब पता चलता है कि असम के करीमगंज के एक रिक्शा चालक अहमद अली ने अपनी इच्छाशक्ति के बल पर ग़रीब बच्चों के लिए नौ स्कूल बनवाए हैं. तब मुझे इस देश की अदम्य इच्छाशक्ति के दर्शन होते हैं.

पाथेरकंडी सर्कल के मधुरबंद गांव के रहने वाले अहमद गरीबी के कारण अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाए. ऐसे में उन्होंने गाँव के बच्चों को तालीम देने का बीड़ा उठाया. उन्होंने रिक्शा चलाकर और अपनी जमीन बेचकर स्कूल खोलने की कसम खाई.पिछले 40 वर्षों में अली अहमद अब तक नौ स्कूलों की स्थापना कर चुके हैं. इसमें पांच अंग्रेजी स्कूल, तीन प्राइमरी स्कूल और एक जूनियर हाई स्कूल है.

Image result for mann ki baat

अहमद अली अभी अपने मकसद में लगे हुए. वे न केवल अब और अधिक स्कूलों की स्थापना करना चाहते है, बल्कि वे एक अब कॉलेज बनाने में भी जुटे हुए है.

उन्होंने कहा कि मैं अपने गांव को शिक्षा के माध्यम से विकसित करना चाहता हूं.” उन्होंने आगे कहा, “निरक्षरता एक पाप है और सभी समस्याओ का मूल कारण. अधिकांश परिवारों को शिक्षा की कमी के कारण समस्याओं का सामना करना पड़ता है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें