cji dipak misra

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ संसद में महाभियोग प्रस्ताव लाने की तैयारी शुरू हो गई है. विभिन्न विपक्षी पार्टियों के सासंदों ने महाभियोग के प्रस्ताव के मसौदे पर हस्ताक्षर भी कर दिए हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कांग्रेस ने महाभियोग प्रस्ताव का ड्राफ्ट विपक्षी दलों को बांटा है. बता दें कि सीजेआई का कार्यकाल 2 अक्टूबर तक है. बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चीफ जस्टिस की कार्यशैली और न्यायपालिका की कार्यप्रणाली पर गंभीर सवाल उठाए थे.

एनसीपी नेता माजिद मेनन ने दावा किया कि कांग्रेस इस पर दस्तखत कर चुकी है और एनसीपी भी समर्थन करेगी. एनसीपी के ही डीपी त्रिपाठी ने कहा, “महाभियोग प्रस्ताव के ड्राफ्ट पर एनसीपी, लेफ्ट और मुझे लगता है कि टीएमसी और कांग्रेस भी दस्तखत कर चुके हैं.“

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ चले महाभियोग, निष्‍पक्ष हो जांच: माजिद मेमन

हालांकि राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि आज की तारीख में सीजेआई के खिलाफ महाभियोग पर कांग्रेस ने कोई स्टैंड नहीं लिया है. कहा जा रहा है कि जस्टिस मिश्रा के खिलाफ महाभियोग के ड्राफ्ट को प्रशांत भूषण ने तैयार किया है.

नैशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारुख अब्दुल्ला ने कहा, ‘मुझे महाभियोग लाने के प्रस्ताव के बारे में इस वक्त कोई जानकारी नहीं है. अगर प्रस्ताव लाया जाता है तो हम कारण जानने के बाद ही इसे अपना समर्थन देंगे. फिलहाल इस विषय में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी.’