पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने बुधवार को ट्रेन में पीट-पीट कर मारे गए जुनैद हत्याकांड में एक और आरोपी को जमानत दे दी है. न्यायमूर्ति ए बी चौधरी ने दिल्ली नगर निगम निगम के एक स्वास्थ्य निरीक्षक रामेश्वर दास को जमानत दी है.

हरियाणा के पलवल जिले के खंबी गांव के रहने वाले 52 वर्षीय रामेश्वर दास ने अपनी जमानत याचिका में कहा था कि उन्हें एफआईआर में नामित नहीं किया गया था और 28 अप्रैल, 2017 को गलत कारणों से गिरफ्तार किया गया था.

उन्होंने यह भी दावा किया कि जुनेद की मौत सीट साझा करने की वजह से अचानक हुई लड़ाई का मामला थी और पिछली कोई दुश्मनी नहीं थी. इस मामले में 6 आरोपियों पर ट्रायल चल रहा है.

बता दें कि पिछले साल जून में दिल्ली से ईद की शोपिंग कर घर लौट रहे 16 वर्षीय जुनैद की मथुरा जा रही ट्रेन में पीट-पीट कर हत्या कर दी थी. साथ ही उसके भाई और रिश्ते के 2 अन्य भाई भी घायल हुए थे.

बीते दिनों जुनैद के पिता ने मामले में सीबीआई जांच को लेकर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. जिस पर कोर्ट ने ट्रायल कोर्ट की कार्यवाही रोकते हुए हरियाणा सरकार और सीबीआई को नोटिस जारी किया.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें