Thursday, September 16, 2021

 

 

 

जामिया मिलिया इस्लामिया होगी देश की पहली ‘सोलर एनर्जी’ यूनिवर्सिटी

- Advertisement -
- Advertisement -

दिल्ली की जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी को देश की पहली ‘सोलर एनर्जी’ वाली यूनिवर्सिटी का खिताब मिलने वाला है. दरअसल, जामिया अब बिजली के लिए पूरी तरह से सौर ऊर्जा पर निर्भर होगी.

जामिया मिलिया इस्लामिया ने एक कम्पनी के साथ सोलर पावर प्लांट लगाने के लिए समझौता किया है. जिसके बाद सोलर पावर प्लांट लगाने का काम शुरू कर दिया गया है.

निवर्सिटी में लगने वाला सोलर पावर प्लांट ढाई मेगावॉट बिजली पैदा करेगा जिसके लिए यूनिवर्सिटी की अलग अलग इमारतों की छतों पर सोलर पैनल लगाए जाएंगे. योजना के मुताबिक मई के महीने तक पावर प्लांट लगाने का काम ख़त्म हो जाएगा और बिजली का उत्पादन शुरू भी कर दिया जाएगा.

Image result for solar panel

समझौते के मुताबिक यूनिवर्सिटी को अगले 25 साल तक बिजली सोलर पावर प्लांट से ही मिलेगी जिसके लिए यूनिवर्सिटी पावर प्लांट लगाने वाली कम्पनी को 3 रुपए 39 पैसे प्रति यूनिट की दर से भुगतान करेगी. इससे बिजली के बिल का यूनिवर्सिटी का ख़र्च काफ़ी कम हो जाएगा.

बताया जा रहा है कि इस समझौते के मुताबिक सोलर पावर प्लांट लगाने के लिए यूनिवर्सिटी को एक रुपया भी ख़र्च नहीं करना पड़ेगा. यूनिवर्सिटी का दावा है कि सोलर पावर प्लांट लगा होने से छात्रों को सौर ऊर्जा से जुड़ी तकनीकी जानकारियाँ समझने में भी आसानी होगी. और सौर ऊर्जा से बनी बिजली का इस्तेमाल होने से प्रदूषण कम करने में भी मदद मिलेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles