अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय को एक सुनियोजित तरीके से पाकिस्तान के संस्थापक मुहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर को लेकर निशाना बनाए जाने के मामले में देश के पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने सख्त प्रतिक्रिया दी है.

उन्होंने कहा, “मेरे पास ऐसे सवालों के लिए वक्त नहीं है, राजनीति को नेताओं के लिए ही छोड़ देना चाहिए.” हालांकि हामिद अंसारी की पत्नी सलमा अंसारी ने इस मामले पर हंगामा मचाने वालों को जमकर लताड़ा. जिन्ना की तस्वीर के विरोध पर सवाल खड़ा करते हुए उन्होंने कहा, “1938 से छात्र संघ के हॉल में जिन्ना की तस्वीर लगी हुई है, अब कोई कारण नहीं है कि यूनिवर्सिटी को अपने एक शानदार पूर्व छात्र की तस्वीर को हटा देना चाहिए.”

बता दें कि यूनिवर्सिटी की और से आज यानी 2 मई को पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी को आजीवन मानद सदस्यता दी जानी थी. लेकिन कथित तौर पर बुधवार को अंसारी की गाड़ी के एएमयू में पहुंचते ही लगभग 20 बाइकों पर सवार भगवाधारियों ने पिस्टल व लाठी-डंडों से हमला किया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

amuu

इस दौरान मुख्य द्वार पर रोकते समय उनकी सुरक्षाकर्मियों से झड़प भी हुई. जिसमे यूनिवर्सिटी का एक सुरक्षाकर्मी और एक छात्र हमले में घायल हुआ. जिसके बाद कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया और वे दिल्ली लौट गए.

एएमयू छात्र संघ ने आरोप लगाया है कि हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं द्वारा यूनिवर्सिटी परिसर में की गयी हिंसा वहां गेस्ट हाउस में ठहरे पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी पर हमले की साजिश का हिस्सा थी.

Loading...