Friday, December 3, 2021

स्मृति ईरानी के हाथों दिए जाने पर राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार का शुरू हुआ बहिष्कार

- Advertisement -

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के लिए चुने गए 140 कलाकारों में से सिर्फ 11 को ही इस बार राष्ट्रपति अपने हाथों सम्मानित करेंगे. बाकि कलाकारों को सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी अवार्ड देंगी. ऐसे में अब इस समाहरोह का बहिष्कार शुरू हो गया है.

बता दें कि अब तक सभी कलाकारों को राष्ट्रपति के हाथों की सम्मानित करने की परंपरा रही है. ऐसे में सेरेमनी से पहले राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार प्राप्त करने वाले 60 से अधिक लोगों ने कहा कि वे आज शाम आयोजित होने वाले समारोह में शामिल नहीं होंगे.

नेशनल फिल्म अवार्ड विजेता सिंगर साशा तिरुपति ने कहा कि  काफी ‘अपमानित’ महसूस कर रही हूं और पुरस्कार का पूरा रोमांच ही खत्म हो गया है. 65वें नेशनल फिल्म अवार्ड्स समारोह में 137 विजेताओं को सम्मानित किया जाएगा.

राष्ट्रपति भवन ने इस बारे में कहा, राष्ट्रपति कोविंद प्रोटोकॉल के अनुसार किसी भी कार्यक्रम को सिर्फ एक घंटे का समय देते हैं. इस दौरान यदि वे सभी पुरस्कृत लोगों को खुद सम्मानित न कर पाए तो शेष पुरस्कार केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी देंगी.

राष्ट्रपति के मीडिया सलाहकार अशोक मलिक का कहना है कि पद ग्रहण करने के बाद से वह प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं. लेकिन जाने से पहले सभी पुरस्कृत लोगों के साथ एक ग्रुप फोटो जरूर खिंचवाएंगे. अभी तक राष्ट्रपति सभी राष्ट्रीय पुरस्कार स्वयं देते थे. इस बार भी आमंत्रण पत्र पर यही सूचना है.

बदली व्यवस्था से नाखुश कलाकारों ने राष्ट्रपति कार्यालय, डायरेक्ट्रेट ऑफ फिल्म फेस्टिवल और सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को पत्र लिखा है. कलाकारों ने पत्र में लिखा, “यह विश्वासघात करने जैसा है कि एक संस्थान जो सख्त प्रोटोकॉल का पालन करता है, वहां बिना बताए कार्यक्रम में बदलाव कर दिया जाता है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि 65 साल की परंपरा एक झटके में बदली जा रही है.”.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles