aamir khan

आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त होने के आरोप में 14 साल बाद अदालत से बाइज्जत बरी हुए मोहम्मद आमिर खान को दिल्ली पुलिस की तरफ से 5 लाख रुपए का मुआवजा दिया गया है.

ये मुआवजा राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) के आदेश पर दिया गया है. एनएचआरसी ने मीडिया खबरों का संज्ञान लेते हुए ने गृह मंत्रालय, दिल्ली सरकार को 4 दिसम्बर 2015 के दिन नोटिस जारी कर 5 लाख रुपये मुआवजा देने का आदेश दिया था.

बता दें कि दिल्ली पुलिस ने आमिर को दिसम्बर 1997 में आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त होने के आरोप में गिरफ्तार किया था, लेकिन जनवरी 2012 को अदालत ने उन्हें बेकसूर करार देते हुए बरी कर दिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस सबंध में आमिर ने कहा कि मुआवजा काफी कम है, लेकिन मैं एनएचआरसी को धन्यवाद देता हूँ. उनके प्रयास से आज देश में पहली बार पुलिस के माध्यम से आतंकवाद के जुर्म में गिरफ्तार किसी व्यक्ति को रिहा होने के बाद मुआवजा मिला है.

आमिर ने कहा कि इस मुआवजे से उन्होंने और उनके परिवार ने जो बदनामी झेली है उसकी भरपाई कभी नहीं हो सकती है. आज भी उन्हें शक की निगाह से देखा जाता है. आमिर ने कहा कि उन्हें वह इस मुआवजे का एक हिस्सा जेलों में बन्द बेकसूरों की रिहाई के लिए और गरीब बच्चों की शिक्षा पर खर्च करेंगे.

Loading...