Monday, January 24, 2022

हिंदू महासभा का भड़काऊ कैलेंडर – ‘मुस्लिमों के धार्मिक स्थलों का किया अपमान’

- Advertisement -

अलीगढ़। हिंदू महासभा ने हिन्दू नववर्ष के मौके पर भड़काऊ कैलेंडर जारी किया है. जिसमे मुस्लिम समुदाय के धार्मिक स्थलों का अपमान किया. इस पुरे मामले में यूपी पुलिस की भूमिका भी संदिग्ध बनी हुई है.

दरअसल, हिंदू महासभा ने अपने कैलेंडर में ताजमहल को तेजो महालय, मक्का को मक्केश्वर महादेव, कुतुबमीनार को विष्णु स्तंभ बताया है. साथ ही यह संदेश छापा गया है कि मक्का में कभी शिव मंदिर था. इसलिए शिवलिंग आज भी खंडित अवस्था में मौजूद है.

ताजमहल का नाम बदलकर तेजो महालय

बता दें कि मक्का दुनिया भर के मुसलमानों का सबसे पवित्र स्थान है. जिसे मक्केश्वर बताकर हिंदू महासभा ने मुस्लिम धर्म की धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ किया. बावजूद यूपी पुलिस ने अब तक न कोई संज्ञान लिया है और नहीं कोई कार्रवाई की है.

इसके अलावा इस कैलेंडर में मुगल कालिन मस्जिदों को बिना किसी आधार के हिन्दू मंदिर बताया गया है. मध्यप्रदेश के कमल मौला मस्जिद को भोजशाला, बनारस की ज्ञानव्यापी मस्जिद को विश्वनाथ मंदिर, अटाला मस्जिद को अटाला देवी मंदिर और बाबरी मस्जिद को श्रीराम जन्मभूमि बताया गया.

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने जताई आपत्ति

इतना ही नहीं कैलेंडर में लोकतांत्रिक देश भारत को संविधान के विरुद्ध जाकर हिन्दू राष्ट्र घोषित करने की भी बात कही गई है. जो देशद्रोह है. हिंदू महासभा के इस कैलेंडर पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने आपत्ति जताई है.

बोर्ड ने कहा है कि हिंदू महासभा ने माहौल बिगाड़ने की कोशिश की. बोर्ड ने कहा है कि उनका दावा तथ्यहीन है. मुस्लिम बोर्ड ने इसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की है.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles