1526441228

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में मंगलवार शाम एक निर्माणाधीन फ़्लाईओवर का हिस्सा गिर गया. जिसके नीचे दबने से 18 लोगों की मौत हो गई. इस हादसे में मरनेवालों का आंकड़ा अभी और बढ़ सकता है. 7 घायलों में 2 की हालत गंभीर बनी हुई है.

एनडीआरएफ के डीआईजी आलोक कुमार सिंह ने बुधवार को बताया कि बचाव कार्य पूरा हो चुका है. बीम को क्रेन की मदद से हटाया जा चुका है. मलबे में दबे वाहनो को दोपहर तक हटाया जाएगा. भीडभाड वाले इस क्षेत्र में निर्माणधीन पुल के दोनो ओर दीवार खडी की जाएगी.

वाराणसी से सांसद पीएम मोदी और सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे पर दुख जताते हुए दोषियों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है. एजेंसी सेतु निगम के 4 अफ़सरों को सस्पेंड कर दिया गया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

modi and amit shah

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सेतु निर्माण निगम के मुख्य परियोजना प्रबंधक एचसी तिवारी, परियोजना प्रबंधक के एस सूदन, सहायक अभियंता राजेश सिंह और अवर अभियंता लाल चंद को निलंबित कर दिया है.

हादसे में घायल लोगों को बीएचयू ट्रामा सेंटर सहित अन्य अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. उत्तर प्रदेश सरकार ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख और घायलों को 2-2 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है.

बता दें कि चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर के विस्तारीकरण का शिलान्यास एक अक्टूबर 2015 में हुआ था. 1710 मीटर लंबे इस फ्लाईओवर का निर्माण कार्य 30 माह में पूरा होना था. इस फ्लाईओवर के निर्माण की अनुमानित लागत 77.41 करोड़ रुपए है. विस्तारीकरण के तहत फ्लाईओवर में 63 पिलर बनने हैं जिनमे 45 पिलर बन कर तैयार हो चुके हैं.

Loading...