bharat

एससी/एसटी एक्ट में सुप्रीम कोर्ट के बदलाव के फैसले के विरोध में 2 अप्रैल (सोमवार) को दलित संगठनों के भारत बंद के चलते कल कई राज्यों में प्रदर्शन हिंसक हो गया. प्रदर्शनों के दौरान 10 राज्य जल उठे और पूरे देश से 14 लोगों की मौत हो गई.

मध्यप्रदेश में सबसे ज्यादा हिंसा और प्रदर्शन देखने को मिला, जहां इस साल के आखिर में चुनाव होने हैं. मध्यप्रदेश में सबसे ज्यादा 7, यूपी और बिहार में तीन-तीन, वहीं राजस्थान में एक की मौत हुई है.

मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, बिहार और पंजाब सहित अन्य स्थानों पर आगजनी, गोलीबारी और तोड़फोड़ की खबरों के बीच कई राज्यों ने बंद के मद्देनजर स्कूल-कॉलेजों को बंद रखने का आदेश दिया है

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

PunjabKesari

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 20 मार्च को जारी एक आदेश में एससी-एसटी एक्ट के दुरुपयोग पर चिंता जताते हुए इसके तहत तत्काल गिरफ्तारी या आपराधिक मामला दर्ज करने पर रोक लगा दी थी. कोर्ट ने एससी-एसटी एक्ट के तहत दर्ज होने वाले केसों में अग्रिम जमानत को भी मंजूरी दे दी थी.

इसी के साथ यूपी के कई जिलों में भी तनाव बरकरार है. हिंसक घटनाओं के मद्देनजर कई जिलों में प्रशासन ने मंगलवार को स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया है. आगरा, हापुड़, गाजियाबाद में मंगलवार को स्कूल बंद रहेंगे. केवल उन्हीं स्कूलों को खुले रहने की अनुमति दी गई है जहां बोर्ड परीक्षाएं चल रही हैं.

जानकारी के अनुसार आगरा में हुई हिंसा के बाद सोमवार को जिला प्रशासन इसका आदेश जारी किया. आदेश में कहा गया है कि जिले में मंगलवार को स्कूल बंद रहेंगे. जिले के जिन स्कूलों में बोर्ड परीक्षाएं चल रही है सिर्फ वही स्कूल खोले जाएंगे. उधर, हापुड़ और गाजियाबाद जिला प्रशासन ने भी इस बारे में आदेश जारी कर दिया है.