hari11

केरल में एक महिला ने कथित रूप से बलात्कार की कोशिश कर रहे हिन्दू धर्मगुरु का काट डाला था. शिष्या ने आरोप लगाया था कि स्वामी गणेशनंदा ने उनके साथ रेप की कोशिश की थी. जिससे बचने के लिए उसने धारदार हथियार से स्वामी का लिंग काट डाला. लेकिन अब ऑपरेशन के जरिये स्वामी गणेशनंदा को नया लिंग मिल गया है.

श्रीहरि स्वामी उर्फ गणेशानंद तीर्थपदा ने शुरू में कहा था कि महिला ने नहीं, बल्कि उन्होंने खुद ही अपना लिंग काट लिया था, हालांकि अब उन्होंने दावा किया कि कुछ ‘बड़े लोगों की साजिश’ के तहत उन पर हमला किया गया था. स्वामी गणेशानंद कटा हुआ लिंग लेकर अस्पताल पहुंचे जहां करीब आठ माह तक उनका इलाज किया गया.

ठीक होने के बाद अब उन्होंने कहा कि वह आठ महीने तक तीसरे जेंडर का इंसान रहने के बाद अब स्वस्थ हो गये हैं. अपने ऊपर लगे आरोपों पर कुछ बोलने के बजाय उन्होंने खुद की तुलना ईसा-मसीह से करते हुए कहा कि उनको भी उन्हीं लोगों ने धोखा दिया जो करीबी थे. मैंने सबको माफ कर दिया है.महिला ने रेप की कोशिश कर रहे जिस बाबा का काटा था लिंग, सर्जरी से मिला वापस

श्रीहरि ने बताया कि लिंग कटने के बाद से ही वह बेहद पीड़ा में थे और इसे पूरी तरह हटाने की सोच रहे थे. हालांकि डॉक्टरों से संपर्क के बाद उन्हें ऑपरेशन के लिए इसे वापस लगाए जाने का पता चला. वह कहते हैं, ‘मुझे अब पेशाब करने में किसी पीड़ा से नहीं जूझना होगा.’

बता दें कि पिछले साल 19 मई को एक 23 साल की एक लड़की ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि श्रीहरि उनके परिवार के धर्मगुरु थे और वह जब 16 साल की थी, तभी से उसका यौन उत्पीड़न कर रहे थे. ऐसे ही एक दिन जब श्रीहरि ने फिर महिला का बलात्कार करने की कोशिश की, तो उसने चाकू से उनका लिंग काट दिया.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें