Saturday, June 12, 2021

 

 

 

पतंजली बिस्कुट में निकला कम वजन, नापतौल विभाग ने लगाया ढाई लाख रूपए का जुर्माना

- Advertisement -
- Advertisement -

इंदौर | योग गुरु रामदेव की कंपनी ‘पतंजली’ की मुश्किलें कम होने का नाम नही ले रही है. भ्रामक प्रचार और ब्रांडिंग के मामले में जुर्माना झेल चुकी पतंजली पर अब नापतौल विभाग ने ढाई लाख रूपए का जुर्माना लगाया है. कंपनी पर आरोप है की उनके उत्पाद में निर्धारित वजन से कम वजन निकल रहा है. खबर है की पतंजली ने अपने ऊपर लगे जुर्माने की रकम को चूका दिया है.

नापतौल विभाग को मिली एक शिकायत में आरोप लगाया गया था की पतंजली बिस्कुट के पैकेट पर अंकित वजन से कम वजन निकल रहा है. नापतौल ने जब मामले की जांच की तो यह आरोप सही पाये गए. इस आधार पर नापतौल विभाग ने पतंजली पर ढाई लाख रूपए जुर्माना लगाने का फैसला किया. हालाँकि पतंजली ने अपना पक्ष रखते हुए कहा की चूँकि पतंजली खुद उत्पादों का तौल और पैकेजिंग नही करती इसलिए उन पर यह जुर्माना न लगाया जाए.

इंदौर के पाटनीपुरा इलाके में रहने वाले निवासी कुलदीप सिंह पवार ने नापतौल को भेजी शिकायत में कहा की उसने 11 फरवरी को पतंजली स्टोर से पतंजली के नारियल बिस्कुट के दो पैकेट ख़रीदे. हर पैकेट पर 100 ग्राम वजन अंकित किया गया था लेकिन जब मैंने उनका वजन किया तो यह 100 ग्राम से कम निकला. एक पैकेट में 92 ग्राम तो दुसरे पैकेट में 86 ग्राम वजन निकला.

9 मार्च 2016 को कुलदीप ने नापतौल विभाग में इसकी शिकायत की. सबूत के तौर पर कुलदीप ने दोनों बिस्कुट के पैकेट भी दिए. जांच में विभाग ने पाया की असल में सभी पैकेट के अन्दर कम वजन है जबकि सब पैकेट पर 100 ग्राम वजन लिखा हुआ है. मामले की सुनवाई के दौरान पतंजली ने कहा की चूँकि वजन और पैकेजिंग का काम सोना कंपनी करती है इसलिए उन पर जुर्माना न लगाया जाए. नापतौल विभाग ने पतंजली की सफाई को नजरअंदाज करते हुए उन पर जुर्माना लगाने का आदेश दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles