tajj

इस्लामिक शासन के दौरान बनी विश्व की ऐतिहासिक धरोहर ताजमहल के अंदर स्थित शाही मस्जिद में ASI के नमाज पर लगाए गए बैन को दरकिनार कर मुस्लिम समुदाय ने नमाज अदा की। इस दौरान पुरातत्व विभाग के अधिकारीयों ने रोकने का प्रयास भी किया।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए पुरातत्व विभाग ने ताजमहल के शाही मस्जिद में रोज होने वाली नमाज पर रोक लगा दी थी। एएसआई की आगरा सर्कल के सुपरिंटेंडेंट आर्कियॉलजिस्ट वसंत स्वर्णकार का कहना है, ‘यह कदम सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक उठाया गया है।’ उन्होंने कहा, ‘नमाज केवल शुक्रवार को पढ़ी जा सकती है और वह भी केवल स्थानीय लोगों के द्वारा।’

वीडियो वायरल होने के बाद सीआईएसएफ से जवाब मांगा गया तो उसका कहना था कि उनके पास ऐसा कोई आदेश नहीं आया है कि मुसलमान यहां सिर्फ शुक्रवार को ही नमाज पढ़ें। अगर कोई टिकट लेकर घुसता है तो उसे कैसे रोकें? वह टूरिस्ट बनकर आया हो। बता दें कि, वीडियो में नमाजिए जबरदस्ती अंदर दाखिल होते दिख रहे हैं।

taj 1509089042 618x347

वहीं ताजमहल इंतजामिया कमिटी के अध्यक्ष सैयद इब्राहिम हुसैन जैदी का कहना है कि लंबे अरसे से यहां की मस्जिद में नमाज पढ़ी जाती थी और इसे रोकने की कोई वजह समझ में नहीं आ रही। उन्होंने आरोप लगाया कि वर्तमान में केंद्र और राज्य सरकार दोनों मुस्लिम विरोधी मानसिकता की हैं।

जैदी का ये भी कहना है कि “ताजमहल शुक्रवार को बंद रहता है। इसलिए सुप्रीम कोर्ट ने ये कहा था कि नमाज़ के लिए ताजमहल शुक्रवार को भी खोला जाए। न कि ये कहा था कि सिर्फ शुक्रवार को ही नमाज़ होगी।”

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें