Tuesday, June 22, 2021

 

 

 

भाजपा विधायक संगीत सोम के खिलाफ मुजफ्फरनगर दंगा का मामला बंद

- Advertisement -
- Advertisement -

मुजफ्फरनगर की एक विशेष अदालत ने 2013 में सांप्रदायिक दंगों के बाद सोशल मीडिया पर भड़काऊ वीडियो अपलोड करने के एक मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस की विशेष जांच दल (एसआईटी) की टीम द्वारा भाजपा विधायक संगीत सोम के खिलाफ दायर क्लोजर रिपोर्ट को स्वीकार कर लिया है।

विशेष न्यायाधीश राम सुद्ध सिंह ने एसआईटी की क्लोजर रिपोर्ट को स्वीकार करते हुए कहा कि मामले में शिकायतकर्ता, इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की मौत हो गई है और क्लोजर रिपोर्ट के खिलाफ कोई आपत्ति दर्ज नहीं की गई है। कुमार की मौत तब हुई थी जब 2018 में बुलंदशहर में अवैध गोहत्या के आरोप में एक भीड़ उग्र हो गई थी।

अभियोजन पक्ष के अनुसार, एसआईटी ने अदालत में एक क्लोजर रिपोर्ट दायर की, जिसमें कहा गया कि सरधना से भाजपा विधायक सोम के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिल सका।

जांच के दौरान, एसआईटी ने केंद्रीय जांच ब्यूरो के माध्यम से, अमेरिका में फेसबुक मुख्यालय से उन लोगों का विवरण मांगा था जिन्होंने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वीडियो अपलोड किया था जो सांप्रदायिक जुनून को उकसाता था।हालांकि, फेसबुक शामिल लोगों के नाम प्रदान करने में विफल रहा।

गौरतलब है कि पुलिस ने आईपीसी की धारा 420 (जालसाजी), 153 ए (समूहों के बीच रंजिश फैलाने) और 120 बी (आपराधिक साजिश) तथा सूचना प्रौद्योगिकी कानून की धारा 66 के तहत संगीत सोम और करीब 200 अन्य लोगों के खिलाफ फेसबुक पर अपलोड वीडियो को लाइक करने के लिए दो सितंबर 2013 को मामला दर्ज किया था।

आरोपियों पर दो युवकों की हत्या से जुड़े वीडियो को प्रसारित करने का आरोप लगाया गया जिसके कारण जिले में सांप्रदायिक तनाव फैला था। छानबीन के दौरान पाया गया कि वीडियो पुराना था और यह अफगानिस्तान या पाकिस्तान का था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles