Saturday, October 23, 2021

 

 

 

जस्टिस सच्चर का आरोप, मोदी सरकार में बढ़ी मुसलमानों के बीच दहशत

- Advertisement -
- Advertisement -

दिल्ली हाईकोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस और सच्चर कमेटी के चेयरमैन रहे राजेंद्र सच्चर ने कहा है कि देश में मुसलमान दहशत में जी रहे हैं. उन्होंने कहा कि बीस महीने के मोदी सरकार में मुसलमान डरे हुए हैं. जस्टिस सच्चर ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि मुसलमानों की बेहतरी के बजाय उनमें दहशत पैदा किया जा रहा है.

मुसलमान शाहरुख-आमिर सहते हैं निशाने: राजेंद्र सच्चर ने कहा कि मुताबिक खुद को हिंदू कहलाने वाले लोग आमिर और शाहरुख को देश छोड़ने की नसीहत देते हैं, क्योंकि वह मुसलमान हैं. यह अपने आप में असहिष्णुता है. उन्होंने जोर देकर कहा कि मोदी सरकार मुसलमानों की तरक्की और सुरक्षा मामले में फेल है.

मोदी सरकार कर रही है झूठे दावे: मुसलमानों को आरक्षण देने की सिफारिश करने वाले जस्टिस सच्चर ने कहा कि मुसलमानों के साथ हो रही दोहरी नीति पर मोदी सरकार कोई शर्म नहीं महसूस करती, बल्कि शासन के झूठे दावे कर रही है. उन्होंने आरोप लगाया है कि मुसलामानों में फैल रहे डर और दहशत के लिए मोदी सरकार जिम्मेदार है. क्योंकि सरकार ने कभी इसे रोकने की कोई पहल नहीं की है.

मुसलमानों के लिए नहीं है मोदी सरकार: जस्टिस सच्चर ने कहा कि अगर सरकार खुद को इससे अलग बताती है तो उसे मानना होगा कि वह निकम्मी और कमजोर है, क्योंकि उन सबों को रोक सकना उसके काबू में नहीं है. उन्होंने जोर देकर कहा कि मोदी सरकार बार-बार यह जताने की कोशिश कर रही है कि केंद्र सरकार एक खास धर्म को मानने वालों का है. उनके अलावा इस देश में रहने का किसी को हक नहीं है. मुसलमानों का तो खास तौर पर नहीं. (आज तक)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles