प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन तलाक पर टिप्पणी करते हुए कहा कि कई वर्ष तक पीड़ा झेलने के बाद मुस्लिम समुदाय की महिलाओं को आखिरकार खुद को इस प्रथा से आजाद कराने का रास्ता मिल गया है.

केरल के वर्कला स्थित शिवगिरि मठ के 85वें समारोह को वीडियो कॉफ्रेंसिग के ज़रिए सभा को संबोधित करते हुए कहा, बीती हुई शताब्दी में नारी कल्याण के लिए काम करने वाले सभी महापुरुषों की आत्मा आज यह देखकर प्रसन्न होगी कि इस देश में महिला अधिकार के लिए इतना बड़ा कदम उठाया गया है. तीन तलाक को लेकर जिस तरह मुस्लिम महिलाओं ने लंबे समय तक कष्ट उठाए और सालों की लंबी लड़ाई के बाद अब हमें तीन तलाक से मुक्ति पाने का रास्ता मिला है.

ध्यान रहे मोदी सरकार ने मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक (ट्रिपल तलाक) को लोकसभा से पारित करवा लिया है. अब इस बिल को मंगलवार को राज्य सभा में पेश होना है. इस बिल में तीन तलाक को आपराधिक करार देते हुए शौहर के खिलाफ तीन साल की सज़ा का प्रावधान किया है.

अपने संबोधन में मोदी ने कहा कि सरकार ने काले धन, भ्रष्टाचार, बेनामी संपत्ति और आतंकवाद पर रोक लगाने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं. उन्होंने कहा कि इनके खिलाफ लड़ाई अगले साल तेज की जाएगी.

उन्होंने कहा, “हम 2018 में सुधार, प्रदर्शन, परिवर्तन और सबके विकास के मंत्र के साथ देश को नई ऊचाइयों पर ले जाएंगे.”

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?