talak

talakट्रिपल तलाक के मुद्दे पर ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) अगले महीने हैदराबाद में एक बड़ी बैठक आयोजित करने जा रहा है. जिसमें वह मुस्लिम समाज में तीन तलाक सहित विभिन्न मामलों के खिलाफ चलाई जा रही मुहीम की रिपोर्ट लेगा.

बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना खलीलुर्रहमान सज्जाद नोमानी ने आज ‘भाषा‘ को बताया कि आगामी 10-11 फरवरी को हैदराबाद में बोर्ड की साधारण सभा की बैठक होगी. इसमें तीन तलाक और दहेज प्रथा समेत मुस्लिम समाज में फैली तमाम बुराइयों के खिलाफ पूरे देश में चलायी जा रही मुहिम का जायजा लिया जाएगा.

मौलाना ने बताया कि ज्यादातर तलाक के मामले गांव से आते हैं क्योंकि वहां पढ़े-लिखे लोगों की संख्या कम है. लिहाजा बोर्ड खासकर गांवों में तीन तलाक बंद करने और दहेज प्रथा को रोकने का अभियान चला रहा है. बोर्ड के अभियान में शिक्षक और छात्र शामिल हैं. साथ ही ये भी संदेश फैलाया जा रहा है कि अगर तलाक देने की नौबत आए तो सीधे उलमा से सम्पर्क करें और तीन तलाक का हर कीमत पर परहेज किया जाए.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने बताया कि बोर्ड इस मुहिम के लिये सोशल मीडिया का भी सहारा ले रहा है. वह फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सअप और यूट्यूब पर आ चुका है और लोग इन माध्यमों के जरिये बोर्ड से जुड़कर अपनी शंकाएं दूर कर सकते हैं.

तीन तलाक रोधी कानून पर कल शुरू हो रहे संसद के सत्र के दौरान राज्यसभा में चर्चा किये जाने के बारे में पूछे जाने पर बोर्ड के प्रवक्ता ने कहा कि बोर्ड अब भी अपने पुराने रुख पर कायम है और वह चाहता है कि प्रस्तावित कानून में जरूरी बदलाव किये जाएं.

Loading...