बिहार के वैशाली जिले के देसरी थाना के अंतर्गत एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। जहां छेड़खानी का विरोध करने पर एक मुस्लिम युवती को केरोसिन डाल कर जिंदा जला दिया गया। पुलिस ने पीड़िता को न्याय दिलाने के बजाय मामले को दबाने की हर मुमकिन कोशिश की।

जानकारी के अनुसार, 20 साल की मुस्लिम युवती गुलनाज से सतीश और उसके साथियों ने छेड़खानी की। जब गुलनाज ने इसका विरोध किया तो उन लोगों ने कैरोसिन डालकर जिंदा जला दिया। दम तोड़ने से पहले गुलनाज ने अपना Video रिकॉर्ड बयान दर्ज कराया है।

अपने बयान में गुलनाज कहती हुई दिखाई दे रही है कि मेरा नाम गुलनाज खातून है, मैं देसरी थाने के रसूलपुर हबीब की हूं। कचरा फेंकने शाम के छह बजे जा रही थी तो रास्ते में विनय राय के बेटे सतीश राय ने मेरे ऊपर मिट्टी तेल डालकर आग लगा दिया।

वहीं पुलिस को दिए बयान में गुलनाज ने बताया कि उसके पिता की मौत हो चुकी है। मां सिलाई का काम करके घर चलाती है। सतीश राय उस पर प्यार और शादी के लिए दबाव डाल रहा था लेकिन वह नहीं मानी तो पहले उसे धमकाया गया। उसने छेड़खानी की शिकायत सतीश के घरवालों से की लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, किसका अपराध ज़्यादा ख़तरनाक है- जिसने ये अमानवीय कर्म किया? या जिसने चुनावी फ़ायदे के लिए इसे छुपाया ताकि इस कुशासन पर अपने झूठे ‘सुशासन’ की नींव रख सके?

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano