Saturday, December 4, 2021

बाबरी मस्जिद के नीचे मंदिर बताने वाले मुस्लिम पुरातत्ववेत्ता को भी मिला पद्म सम्मान

- Advertisement -
नई दिल्ली: हाल ही में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 112 लोगों को पद्म पुरस्कार देने का ऐलान किया गया। इसमें से एक नाम पुरातत्वविद डॉ. केके मुहम्मद का भी है। केके मुहम्मद दरअसल वही व्यक्ति हैं, जिन्होंने दावा किया था कि अयोध्या में बाबरी मस्जिद के नीचे मंदिर के अवशेष मिले हैं। न्यूज़ 18 के अनुसार, डॉ. केके मुहम्मद ने मलयालम में लिखी अपनी आत्मकथा ‘जानएन्ना भारतीयन’ में दावा किया था कि अयोध्या में 1976-77 में हुई खुदाई के दौरान मंदिर के अवशेष होने प्रमाण मिले थे। ये खुदाई भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के तत्कालीन महानिदेशक प्रोफेसर बीबी लाल के नेतृत्व में की गई थी. उस टीम में मुहम्मद भी एक सदस्‍य थे। मुहम्मद ने अपनी किताब में लिखा था, ‘जो कुछ मैंने जाना और कहा है, वो ऐतिहासिक सच है। हमें विवादित स्थल से 14 स्तंभ मिले थे। सभी स्तंभों में गुंबद खुदे हुए थे। ये 11वीं और 12वीं शताब्दी के मंदिरों में मिलने वाले गुंबद जैसे थे। गुंबद में ऐसे 9 प्रतीक मिले हैं, जो मंदिर में मिलते हैं।’ मुहम्मद ने ये भी कहा था, ‘खुदाई से साफ हो गया है कि मस्जिद एक मंदिर के मलबे पर खड़ी की गई थी। उन दिनों मैंने इस बारे में कई अंग्रेजी अखबारों में भी लिखा था, लेकिन मुझे ‘लेटर टू एडिटर वाले कॉलम’ (अखबार में बहुत छोटी जगह) जगह दी गई थी।’ babri masjid मुहम्मद मानते हैं कि अयोध्या मामले को उन लोगों से बचाए जाने की जरूरत है, जिन्हें लगता है ताजमहल शिव मंदिर हैं। उनका ये भी मानना है कि मुसलमानों को अयोध्या को हिंदुओं को सौंप देना चाहिए, क्योंकि उनके पास मक्का और मदीना है। वामपंथ से जुड़े चिंतकों की आलोचना करते हुए मुहम्मद ने अपनी किताब में लिखा था कि इन लोगों ने इस मामले को इतना उलझा दिया, वरना से मामला कब का सुलझ गया होता। इसके अलावा उन्होंने भारतीय इतिहास अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) के तत्कालीन सदस्य प्रोफेसर इरफान हबीब, रोमिला थापर, बिपिन चंद्रा, एस. गोपाल जैसे इतिहासकारों की आलोचना करते हुए कहा कि इन सभी ने मुस्लिम बुद्धिजीवियों के साथ साथ इलाहाबाद हाईकोर्ट को भी गुमराह करने की कोशिश की उन्होंने अपनी किताब में नफरत फैलाने की बात पर कहा था कि हिंदू धर्म में सांप्रदायिकता मौलिक नहीं बल्कि एक प्रतिक्रिया है. गोधरा ऐसी प्रतिक्रिया का एक उदाहरण था।
- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles