मुंबई के एक कॉलेज द्वारा मुस्लिम छात्रा के हिजाब पहनने पर पाबंदी लगाने के मामले में कड़ी फटकार लगाई है. मुस्लिम छात्रा मेडिकल कॉलेज की स्टूडेंट है.

जानकारी के अनुसार. मुंबई की ही रहने वाली फाकेहा बादामी ने 2016 में भिवंडी स्थित साई होम्योपथी मेडिकल कॉलेज में बैचलर ऑफ होम्योपथी मेडिसिन ऐंड सर्जरी कोर्स में दाखिला लिया था. लेकिन कॉलेज ने फाकेहा को केवल इस वजह से लेक्चर अटेंड करने से रोक दिया कि वह हिजाब पहनती थी.

इस मामले में नवंबर 2017 में जब फाकेहा ने पहली बार हाई कोर्ट का रुख किया तब तक परीक्षा खत्म हो चुकी थी. 12 मार्च 2018 को कॉलेज ने फाकेहा को लेक्चर अटेंड नहीं करने देने की बात से ही इनकार कर दिया. 19 मार्च को कोर्ट की ऑर्डर कॉपी के साथ पहुंचने पर फाकेहा को क्लास अटेंड करने दिया गया.

इंडियन एक्‍सप्रेस में छपी खबर के अनुसार हाईकोर्ट ने कॉलेज प्रबंधन को इस कृत्‍य के लिए कड़ी फटकार भी लगाई. लेकिन बाद में उसने फिर वही रवैया शुरू कर दिया. छात्रा को परीक्षा में बैठने से रोक दिया है. अब याचिकाकर्ता ने हाईकोर्ट से परीक्षा में बैठने के लिए कॉलेज को आदेश देने की मांग की है.

इस मामले में 11 जनवरी 2017 को छात्राने आयुष मंत्रालय को भी पत्र लिखा था. मंत्रालय ने भी कॉलेज को छात्रा को हिजाब पहनने की इजाजत देने को कहा था. छात्रा ने राज्‍य मानवाधिकार आयोग में भी गुहार लगाई लेकिन कॉलेज प्रबंधन झुकने को तैयार नहीं हुआ.

ऐसे में अब एक बार फिर से छात्रा ने ने हाईकोर्ट से परीक्षा में बैठने के लिए कॉलेज को आदेश देने की मांग की है. याचिकाकर्ता के घरवालों ने कॉलेज प्रशासन से साफ कर दिया कि उनकी बेटी हिजाब नहीं छोड़ सकती.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?