Friday, July 30, 2021

 

 

 

MSO ने की दिल्ली हिंसा की न्यायिक जांच की मांग

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: मुस्लिम स्टूडेंट ओर्गेनाइजेशन ऑफ इंडिया (एमएसओ) ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुए भीषण दंगे की कड़ी निंदा करते हुए इस हिंसा के लिए कानून और व्यवस्था को जिम्मेदार बताया।

एमएसओ के राष्ट्रिय अध्यक्ष शुजात अली कादरी ने कहा कि उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालत बहुत ही दयनीय है। जो चिंता का विषय है। फासीवादी गुंडे जिस परकार से हिंसा और लुटपाट कर रहे है। किसी भी देश और समाज के लिए सही नहीं है। उन्होने कहा कि दंगों प्रवृति को देखकर ऐसा लगता है कि दंगे पूर्व नियोजित थे। इतना ही नहीं इन दंगों को भाजपा नेताओं और पुलिस का भी पूर्ण समर्थन प्राप्त है।

उन्होने गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि वह दिल्ली के लोगों की जान, माल और कानून की सुरक्षा करने में विफल रहे। उन्होने आरोप लगाया कि ये हिंसा बीजेपी नेता कपिल मिश्रा के भड़काऊ भाषणों का नतीजा है। उन्होने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से हिंसाग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करने की भी अपील की।

कादरी ने हिंसा की जांच के लिए न्यायिक आयोग के गठन की मांग की। उन्होने कहा कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। साथ ही पीड़ितों को तत्काल मुआवजा दिया जाये। कादरी ने हिंसा ग्रस्त क्षेत्रों में तत्काल सेना लगाए जाने की भी मांग की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles