जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय (जेएमआई) ने भारतीय सेना (आर्मी) ने मिलकर एक MoU साइन किया है. जिसके तहत सेना के जवानों की शेक्षणिक रूप से मदद करना है.

सेना और जामिया के बीच इस नए करार के बाद अब देश के विभिन्‍न क्षेत्रों में ड्यूटी पर तैनात सेना के जवान खुद को जामिया के सेंटर फॉर डिस्‍टेंस एंड ओपन लर्निंग में रजिस्‍टर कर विभिन्‍न ग्रेजुएट एवं पोस्‍ट ग्रेजुएट कार्यक्रमों की पढ़ाई कर सकेंगे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस MoU से कमिशंड ऑफिसर्स के लिए यूनिवर्सिटी के विभिनन रिसर्च प्रोग्रॉम्‍स करने के रास्ते खुल जायेंगे. इस तरह का करार जामिया के साथ इंडियन एयरफोर्स और भारतीय नेवी भी कर चूकी है.

इंडियन एयरफोर्स और भारतीय नेवी के साथ हुए करार के बाद अब तक, 12 हजार से अधिक जवानों ने इसके तहत रजिस्‍टर भी किया है. जिसमे वे विभिन्न प्रोग्राम के तहत शिक्षा हासिल कर रहे है.

इस मौके पर जामिया मिल्लिया इस्लामिया के कुलपति प्रो. तलत अहमद और भारतीय सेना के जनरल अश्विनी कुमार मौजूद थे.

Loading...