Monday, June 14, 2021

 

 

 

मस्जिदों में नहीं होगा रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर का इस्तेमाल, सर्कुलर हुआ जारी

- Advertisement -
- Advertisement -

कर्नाटक राज्य वक्फ बोर्ड ने ध्वनि प्रदूषण पर नियंत्रण लगाने का हवाला देते हुए रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक मस्जिद में लाउडस्पीकर के प्रयोग पर प्रतिबन्ध लगा दिया है। इसके साथ ही अस्पतालों, शैक्षणिक संस्थानों और अदालतों के आसपास 100 मीटर से कम दूरी के क्षेत्रों को साइलेंस ज़ोन घोषित कर दिया।

सर्कुलर में ये भी कहा गया है कि सलत, जूमा कुतबा, बयान और अन्य धार्मिक कार्यक्रमों के दौरान मस्जिद में मौजूद लाउडस्पीकर का ही इस्तेमाल किया जाना चाहिए। इन कार्यो के लिए मस्जिद प्रांगण में मौजूद स्पीकर का ही इस्तेमाल करने को कहा गया है

इसके अलावा मस्जिद के आसपास ऊंची आवाज वाले पटाखों पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। वहीं मस्जिद के अंदर मुअज्जिन को एंप्लिफायर के इस्तेमाल की ट्रेनिंग देने की बात कही गई है।

लाउडस्पीकर के इस्तेमाल पर रोक लगाने के साथ-साथ इस सर्कुलर में पेड़ लगाने पर भी जोर दिया गया है। इसमें लोगों से खाली जगहों पर छायादार और फलदार पेड़ लगाने के लिए कहा गया है। इसके अलावा पशु पक्षियों के लिए पानी की टंकी भी लगाई जाने की बात कही गई है। वहीं मस्जिद में भिखारियों को भीख देकर बढ़ावा देने से बचने के लिए कहा गया है और ऐसे लोगों की काउंसलिंग करने की बात कही गई है।

कर्नाटक राज्य वक्फ बोर्ड के इस फैसले का एसडीपीआई ने विरोध किया है, एसडीपीआई के प्रदेश अध्यक्ष अब्दुल हन्नान ने कहा कि बोर्ड का कुरान, नमाज और अजान से कोई लेना-देना नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles