yogi 650x400 41514689208

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में प्रचार के लिए बीजेपी ने स्टार प्रचारक के तौर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उतारा था। लेकिन बीजेपी का ये दांव उल्टा ही साबित हुआ। दरअसल, योगी ने जिन जगहों पर प्रचार किया था। वहां आधी से ज्यादा सीटें भाजपा हार गई।

योगी आदित्यनाथ इन चुनावों में अलग-अलग राज्यों में 70 से ज्यादा रैलियां की। इतना ही नहीं योगी आदित्यनाथ ने इन रैलियों में अली-बजरंगबली जैसे बयान देकर धार्मिक ध्रुवीकरण की भी खूब कोशिश की, लेकिन चुनाव के नतीजे देखकर पता चलता है कि योगी आदित्यनाथ ने जिन स्थानों पर रैलियां की, वहां भाजपा को आशातीत सफलता नहीं मिल सकी।

Loading...

योगी आदित्यनाथ ने राजस्थान के अलवर में हनुमान जी को दलित बताया था। अलवर जिले में 11 विधानसभा सीटें थी, लेकिन उनमें से भाजपा को सिर्फ 2 सीटों पर जीत मिली, जबकि 2013 के चुनावों में भाजपा ने यहां से 9 सीटों पर जीत दर्ज की थी।

bjp

छत्तीसगढ़ में तो भारतीय जनता पार्टी का चुनाव प्रचार मोदी नहीं बल्कि योगी आदित्यनाथ के कंधों पर था। जहां बीजेपी को बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा। प्रचार के दौरान छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह योगी के पैर छूते हुए दिखे और योगी ने उन्हें जीत का आशीर्वाद भी दिया।

योगी ने छत्तीसगढ़ में करीब 22 रैलियां की। वे यहां राम मंदिर का मुद्दा उठाते रहे। लेकिन यहाँ की जनता ने योगी और उनके राम मंदिर के मुद्दा नकार दिया।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें