स्वामी चिन्मयानंद को लेकर मंगलवार को करीब 12 से अधिक वीडियो क्लिप शाहजहांपुर में वायरल हो गईं। वीडियो में स्वामी चिन्मयानंद के शरीर की मालिश कराते हुए बताए गए हैं। वीडियो क्लिप कहां बनाई गईं, किसने बनाई हैं, इस बात का खुलासा एसआईटी ही कर सकती है।

भड़ास4मीडिया ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया कि जो क्लिप्स लीक कराए गए हैं, वे सभी एक ही दिन के रिकार्ड किए हुए हैं, 31 जनवरी 2014 को. मतलब पांच साल पहले यह वीडियो रिकार्ड किया गया था। छात्रा ने चश्मे वाले खुफिया कैमरे से वीडियो शूट किया है। वीडियो में वह नग्न अवस्था में छात्रा से तेल लगवा रहे हैं। 

वीडियो क्लिप के दौरान अधिकतर वक्त स्वामी शांत ही लेटे रहे। वह बीच बीच में आ रहे फोन पर बात भी कर रहे थे, ऐसा लोगों का कहना है। वह मालिश कराने के दौरान आए फोन पर 23 मई का भी जिक्र करते हुए सुने गए, इससे माना जा रहा है कि वीडियो इस बार के लोकसभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने के बाद का है। हालांकि इन वीडियो की प्रामाणिकता की पुष्टि नहीं की जा सकती है।

बता दें कि स्वामी चिन्मयानंद पर आरोप लगाने वाली छात्रा ने एसआईटी की पूछताछ के बाद सोमवार को मीडिया के सामने बड़ा खुलासा किया है। पीड़िता ने स्वामी पर उसके साथ दु’ष्कर्म करने का आरोप लगाया। छात्रा ने दिल्ली में जीरो एफआईआर दर्ज करवाई है।

छात्रा ने कहा कि वह मामले की जांच कर रही एसआईटी को भी यह बात बता चुकी है। एसआईटी ने रविवार को करीब 11 घंटे तक उससे पूछताछ की थी। युवती के मुताबिक उसने जांच दल को बताया है कि स्वामी चिन्मयानंद ने उसके साथ बला’त्कार और एक वर्ष तक उसका शारीरिक शोषण भी किया है।

उसने दावा किया कि यह रिपोर्ट दिल्ली के लोधी रोड थाने में जीरो क्राइम नंबर पर दर्ज करके शाहजहांपुर भेज दी गई है, मगर स्थानीय पुलिस बला’त्कार और शारीरिक शोषण की रिपोर्ट दर्ज नहीं कर रही है।

उसने आरोप लगाया कि कॉलेज में और भी छात्राएं हैं, जिनके साथ स्वामी ने इसी तरह की हरकतें की हैं, लेकिन वह पहली लड़की है, जिसने स्वामी के खिलाफ आवाज उठाई है। छात्रा ने कहा कि उसके पास सबूत हैं और वह समय आने पर सारे सबूत पेश करेगी।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन