रविवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने एक बार फिर से विवादित बयान देते हुए कहा कि भारत में रहने वाले सभी लोग हिंदू हैं.

त्रिपुरा की राजधानी में स्थित स्वामी विवेकानंद मैदान में एक जन समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, भारत में मुस्लिम भी हिंदू हैं. भागवत ने कहा कि हमें किसी से कोई बैर नहीं है. हम सभी का कल्याण चाहते हैं. सभी को जोड़ने का सूत्र हिंदुत्व है.

भारत को हिंदुओं की धरती बताते हुए संघ प्रमुख ने कहा कि दुनियाभर से प्रताड़ित हिंदू इस देश में आकर शरण लेते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘हिंदू सत्य में विश्वास रखते हैं, लेकिन दुनिया शक्ति का सम्मान करती है. संगठन में शक्ति होती है. संगठित होना स्वाभाविक नियम है.

1947 में भारत के विभाजन को लेकर भागवत ने कहा, हिंदुत्व की भावना कमजोर होने की वजह से 1947 में भारत विभाजित हो गया था.

ध्यान रहे ये पहली बार नहीं है जब संघ प्रमुख ने मुस्लिमों सहित अन्य समुदायों को हिन्दू करार दिया. वे कई मौकों पर ऐसे बयान देते आए है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?