30 मार्च से तीन देशों की यात्रा पर जा रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2 अप्रैल को सऊदी अरब की राजधानी रियाद भी जायेंगे। ईरान के साथ सऊदी अरब के संबंधों के तनाव के बीच मोदी की रियाद यात्रा काफी महत्वपूर्ण मानी जा रही है। सऊदी अरब भारत के लिए सबसे बडा तेल निर्यातक है। मोदी की इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच कई महत्वपूर्ण समझौते भी होंगे।

मोदी 30 मार्च को बेल्जियम में होने वाले भारत-यूरोपीय यूनियन समिट में शामिल होंगे। उसके बाद वाशिंगटन में न्यूक्लियर स्टेट समिट में हिस्सा लेंगे। जहां वो संभवतः पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ से मिल सकते हैं। पठानकोट एयरबेस पर हमले के बाद भारत-पाक सम्बंधों में एक बार फिर तल्खी आ गयी थी।

न्यूक्लियर समिट से लौटते वक्त मोदी 2 अप्रैल को सऊदी अरब की राजधानी रियाद में रुकेंगे। (News24)


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें