Tuesday, July 27, 2021

 

 

 

मोदी ने ली दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ, आज हो सकता है मंत्रियों में विभागों का बंटवारा

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लगातार दूसरी बार देश की बागडोर संभाल ली है। राष्ट्रपति भवन में गुरुवार शाम आयोजित समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पीएम मोदी को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। पीएम के बाद पिछली सरकार में गृह मंत्री रहे लखनऊ से बीजेपी के सांसद राजनाथ सिंह ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। सरकार में तीसरे नंबर पर अमित शाह ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली।

आपको बता दें कि पीएम के साथ कुल 24 कैबिनेट मंत्रियों, 9 राज्य मंत्रियों (स्वतंत्र प्रभार) और 24 राज्य मंत्रियों ने शपथ ली है।  सरकार में चौथे मंत्री के तौर पर बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष और पिछली सरकार में सड़क परिवहन मंत्री रहे नितिन गडकरी ने शपथ ली। इसके बाद सदानंद गौड़ा ने अंग्रेजी में पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। पिछली सरकार में रक्षा मंत्री रहीं निर्मला सीतारमण, NDA के सहयोगी दल एलजेपी के प्रमुख रामविलास पासवान, मुरैना से जीते बीजेपी सांसद और पिछली सरकार में मंत्री रहे नरेंद्र सिंह तोमर, पटना साहिब से जीते रविशंकर प्रसाद ने भी मंत्री पद की शपथ ली।

इसके बाद हरसिमरत कौर बादल ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। अकाली दल की प्रमुख नेता हरसिमरत पिछली सरकार में खाद्य एवं प्रसंस्करण मंत्री थीं। पिछली सरकार में सामाजिक न्याय मंत्री रहे थावर चंद गहलोत ने भी कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली। पूर्व विदेश सचिव डॉ. एस. जयशंकर ने भी कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली।

bjp

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने कैबिनट मंत्री के तौर पर शपथ ली। अमेठी से कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी को लोकसभा चुनाव में हराने वाली स्मृति इरानी को मोदी कैबिनेट 2.0 में शामिल किया गया है। इसके बाद पिछली सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रहे डॉ. हर्षवर्धन, मानव संसाधन विकास मंत्री रहे प्रकाश जावड़ेकर और रेल मंत्री रहे पीयूष गोयल ने भी कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली।

ओडिशा से ताल्लुक रखने वाले और पिछली सरकार में पेट्रोलियम मंत्री रहे धर्मेंद्र प्रधान को भी कैबिनेट मंत्री बनाया गया है। बीजेपी के जानेमाने मुस्लिम चेहरे मुख्तार अब्बास नकवी ने भी कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली। पिछली सरकार में वह अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री थे। उन्होंने लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा था। बेगूसराय से जीते बीजेपी के फायरब्रैंड नेता गिरिराज सिंह ने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली। वह पिछली सरकार में लघु-मध्यम उद्योग मंत्री थे। इस तरह कुल 57 मंत्रियों ने भी उनके साथ ही शपथ ली।

अब शुक्रवार की शाम को इस नई कैबिनेट की पहली मीटिंग होगी। हालांकि विभागों की बंटवारे को लेकर अभी भी संशय बरकरार है। लोकसभा के नवनिर्वाचित सदस्यों को शपथ दिलाई जानी है। प्रधानमंत्री आने वाले दिनों में विभिन्न कैबिनेट समितियों जैसे सुरक्षा मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति, संसदीय मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति और राजनीतिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति पर भी निर्णय लेंगे। 17वीं लोकसभा के पहले सत्र की शुरुआत 6 जून से 15 जून के बीच होने की संभावना है। हालांकि अभी इसकी कोई तय तारीख नहीं घोषित की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles