भारतीय जनता पार्टी की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक के अंतिम दिन शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगामी पांच राज्यों में होने वाले चुनाव को लेकर कहा कि चुनाव में रिश्तेदारों के टिकट के लिए दबाव न बनाएं. संगठन को सही लगेगा तो टिकट मिलेगा. प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि सभी को चुनाव में मिल कर काम करना हैं पांच राज्यों में जीत पक्की करें.

इसी के साथ मोदी ने कहा कि राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे में पारदर्शिता लाने की जरूरत है. राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे में पारदर्शिता लाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सक्रिय भूमिका निभाएगी. उन्होंने आगे कहा कि हमारी सरकार की प्राथमिकता है कि गरीबों की दशा सुधरे. गरीब, गरीबी को परास्त करें इसकी ताकत हमारी सरकार देगी. हमारा लक्ष्य है कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत हर तबके की बेटी को पढ़ाया जाए.

मोदी ने कहा कि गरीबी हमारे लिए सेवा का अवसर है. गरीब की सेवा प्रभु की सेवा के समान है. गरीब-गरीबी को वोट बैंक के चश्में से नहीं देखते हैं. भ्रष्टाचार को देश की सबसे बड़ी समस्या बताते हुए उन्होंने कहा कि नोटबंदी से कालाधन रुकेगा. नोटबंदी के फैसले को गरीबों ने दिल से स्वीकारा है. नगदी से बेनामी संपत्ति को मजबूती मिलती है.

पीएम ने नोटबंदी का जिक्र करते हुए कहा कि तकलीफ होने के बावजूद देश के लोगों ने इस बदलाव को स्वीकार किया है. उन्होंने कहा, ‘कुछ दिन के लिए कठिनाई होगी, लेकिन देश की जनता ने इस कठिनाई को सहते हुए इस महान बदलाव को स्वीकारा है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें