नई दिल्ली राष्ट्रीय ध्वज का कथित तौर पर ‘अपमान करने’ को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने वाले आशीष शर्मा को लगातार धमकियाँ मिल रही हैं. उन्होंने शनिवार को दिल्ली की एक अदालत में बताया कि हाल ही में उन पर जानलेवा हमला किया गया हैं और धमकी दी गयी  कि मामले को आगे नहीं बढ़ाये.

शर्मा ने शिकायत में कहा कि, ’11 नवंबर, 2016 को करीब आधीर रात के समय मेरे घर के पास मेरी हत्या का प्रयास किया गया और मुझे चेतावनी दी गई कि अगर मैं शिकायत वापस नहीं लेता तो मुझे जल्द मार दिया जाएगा।’ शर्मा ने दावा किया कि प्रधानमंत्री ने 20 से अधिक बार ध्वज का अपमान किया।

उन्होंने कहा, ‘अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री ने तिरंगा पहन रखा था, जो भारत का राष्ट्रीय ध्वज है। प्रधानमंत्री ने ध्वज से पूरी दुनिया के सामने अपना चेहरा साफ किया और अपने शरीर का पसीना पोछा और अपनी नाक भी साफ की। पूरी दुनिया के मीडिया और भारतीय मीडिया ने भी प्रधानमंत्री के हमारे राष्ट्र ध्वज का अपमान करते हुए तस्वीर ली।’

शिकायतकर्ता आशीष शर्मा ने मेट्रोपोलिटन मैजिस्ट्रेट स्निग्धा सरवरिया के सामने समन से पूर्व का बयान रेकॉर्ड कराया। अदालत ने मामले को 30 जुलाई तक के लिए स्थगित कर दिया।