श्रीनगर | जम्मू कश्मीर में बनी देश की सबसे लम्बी सुराग का कल प्रधानमंत्री मोदी ने उद्घाटन कर दिया. इस दौरान आयोजित कार्यक्रम में मोदी ने कश्मीर के युवाओ को चेताते हुए कहा की आपको टूरिज्म और टेररिज्म में से एक को चुनना होगा. इसके अलावा उन्होंने पाक अधिकृत कश्मीर के लोगो के जरीय पाकिस्तान को सन्देश देते हुए कहा की वहां के लोग देखे की सरकार जम्मू कश्मीर में किस तरह का काम कर रही है.

इस टनल के उद्घाटन के बाद सभी मीडिया ग्रुप मोदी के विकास की खूब चर्चाये कर रहा है. रविवार से बीजेपी और मीडिया दोनों मिलकर मोदी को विकास पुरुष बताने में कोई कसार नही छोड़ रहे है. लेकिन यहाँ गौर करने वाली बात यह है की जिस मनमोहर सरकार को कोसते हुए मोदी जी कहते थे की उन्होंने पिछले दस सालो में भ्रष्टाचार के अलावा कोई काम नही किया है, पिछले तीन सालो में उन्होंने ज्यादातर युपीए सरकार द्वारा शुरू किये गए कामो का ही उद्घाटन किया है.

चाहे वैष्णो देवी पर जाने वाली शक्ति एक्सप्रेस हो या डीबीटी ( डायरेक्ट बेनिफिट ट्रान्सफर) स्कीम. डीबीटी के जरिये भ्रष्टाचार कम होने की बात कहने वाली मोदी सरकार , इस योजना को भी अपना बताती है जबकि यह योजना भी मनमोहन सरकार के समय 2013 में शुरू हुई थी. इसके अलावा , मनरेगा को कोसने वाले आज बजट में मनरेगा को ज्यादा पैसा आवंटित कर रहे है. यही नही बीजेपी आधार पर भी सवाल उठा चुकी है जबकि आज हर जगह आधार को जरुरी किया जा रहा है.

रविवार को मोदी ने जिस चेनानी-नाशरी टनल का उद्घाटन किया उसका काम 2011 में मनमोहन सरकार के समय शुरू हुआ था. इस टनल को पटनी टॉप टनल के नाम से भी जाना जाता है. यह भारत की सबसे भी टनल है. इसकी लम्बाई 9.28 किलोमीटर है. इस टनल को बनाने में करीब 3720 करोड़ रूपये की लागत आई है. इस टनल के बनने के बाद जम्मू और श्रीनगर की दूरी 30 किलोमीटर के करीब कम हो गयी.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?